Green Coffee Grano की कीमत: भारत में वजन कम करने का फॉर्मूला पाएँ!

By | May 16, 2018

वजन कम करना बड़ी टेढ़ी खीर साबित हो सकता है क्योंकि अधिकतर लोगों की लाइफस्टाइल में शामिल खाने की लत के कारण उनकी डाइट आउट ऑफ कंट्रोल डाइट होती है और वजन बढ़ता ही जाता है। Green Coffee Grano कुछ ऐसे पेयों में से एक है जो शरीर के वजन घटाने के चक्र को स्थिर रूप से पूरा करने के लिए लोकप्रिय होता जा रहा है।

खाने की लत, अधिक कैलोरियाँ खाने और अनियंत्रित कार्बोहाइड्रेट की इच्छा से परेशान अधिकतर लोगों के दुबले होने के प्रयास विफल ही रहते हैं। वजन कम करने के प्रयास विफल करने के पीछे कई कारण हो सकते हैं लेकिन एक सेक्सी लुक और सटीक फिगर पाने के लिए उचित दिशा में प्रयास करना जरूरी होता है। यही कारण है कि आजकल वजन कम करने के सप्लिमेंट्स बहुत लोकप्रिय हो रहे हैं क्योंकि खाने की गोलियों में कई तरह के लाभ उपलब्ध कराते हैं।

Green Coffee Grano की कीमत क्या है?

Green Coffee Grano को इसकी भूख दबाने की क्षमता और शरीर में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम करने के प्रभाव के लिए जाना जाता है। वजन कम करने के इस सप्लिमेंट को Green Coffee फलियों से बनाया जाता है जो मूलतः बिना भूनी हुई कॉफी फलियाँ होती हैं। कॉफी बनाने का आम तरीका है कॉफी फलियों को भूनना जिससे उनका रंग कत्थई हो जाता है और उसमें कॉफी की ख़ुश्बू आने लगती है।

लेकिन यहाँ हम बिना भुनी कॉफी फलियों की बात कर रहे हैं जो मूलतः हरे रंग की होती हैं और अपने खराब स्वाद और खुश्बू के लिए जानी जाती हैं। कॉफी को प्राकृतिक अवस्था में ही तोड़ लेने से वजन कम करने हेतु  पाचन तंत्र और कार्बोहाइड्रेट खपत न्यूनतम करने की पूरी प्रभावशीलता सुरक्षित रहती है।

उपवास के दौरान कॉफी लेने की महत्ता

प्योर ग्रीन कॉफी फलियाँ लेने की जरूरत समझने के लिए आपको डाइट या उपवास के समय की प्रक्रियाएँ जानने की जरूरत होगी। अधिक खाने की आदत से प्राकृतिक रूप से मुक्ति पाने का यह तरीका बहुत सरल और असरदार है। वजन ज़्यादा होने और खाने की लत से पुरुष और महिलाएँ दोनों के मन में हीन भावना घर कर सकती है। अपने मैटाबॉलिक स्तर को बेहतर करने और डाइटिंग करने से वजन कम करने की प्रक्रिया सरल हो जाती है। यही कारण है कि लोग डाइटिंग के दौरान कॉफी लेना पसंद करते हैं।

लेकिन इसमें और चीजें हैं जो इसे वाकई में खास बनाती है और दूसरे वजन कम करने के सप्लिमेंट्स से अलग करती है। एक है क्लोरोजेनिक एसिड और दूसरा है एक्सर्साइज़ के दौरान मैटाबॉलिक प्रक्रियाओं में तेजी आ जाना। वसा कोशिकाओं से ऊर्जा बनने की प्रक्रिया यदि उचित रूप से चले तो रोजाना की एक्सर्साइज़ में आपको अच्छी ऊर्जा मिलने लगती है। हर मोटे आदमी को एक चीज समझनी होगी और वह है रोज एक्सर्साइज़ और डाइट करने की आदत डाल लेना। एक्सर्साइज़ के साथ डाइट करने से ज़्यादा अच्छे नतीजे मिलते हैं लेकिन जिम में कसरत से ज़्यादा खाने पर कंट्रोल अधिक महत्वपूर्ण होता है।

अच्छे घटक और प्राकृतिक सामग्रियाँ

ग्रीन कॉफी फलियाँ चुनने का सबसे बड़ा कारण यह होता है कि एक बार आपके शरीर को इसकी आदत पड़ जाने के बाद इसके नतीजे लंबे टिके रहते हैं। इससे आपको वजन घटाने में आने वाली मुख्य बाधाओं, जैसे वसा जलाना, डाइटिंग और शरीर में वसा के असंतुलित वितरण से निपटने में मदद मिलती है। जैसा हम जानते हैं, ग्रीन कॉफी फलियाँ भुनी हुई फलियों की तुलना में ज्यादा शक्तिशाली और असरदार होती हैं। लेकिन इनमें और सामान्य फलियों में आखिर क्या फर्क होता है?

यह एक महत्वपूर्ण प्रश्न है क्योंकि हम सभी कॉफी, चाय और कई तरह के ड्रिंक पीते हैं लेकिन जरूरी नहीं है कि हर चीज से वजन कम करने में लाभ होता हो। कॉफी को भूनने से उसके चिकित्सकीय पदार्थ और एंटीऑक्सीडेंट नष्ट हो जाते हैं जो वजन घटाने की प्रक्रिया में काफी लाभप्रद होते हैं। ग्रीन कॉफी फलियों में क्लोरोजेनिक एसिड और कैफ़ीन पाए जाते हैं जो शरीर की वसा कोशिकाओं को जलाकर ऊर्जा देते हैं। नीचे इस सप्लिमेंट में उपलब्ध कुछ सामग्रियों की सूची दी गई है:

कॉफी फलियों का सत्त- यह सबसे महत्वपूर्ण पदार्थ है जो भूख घटाता है और त्वचा के नीचे जमी हुई वसा को जलाकर मैटाबॉलिज़्म तेज कर देता है।

ग्रीन टी पत्तियाँ- इससे रक्त में कॉलेस्ट्रोल स्तर कम करने और शुगर नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

कैफ़ीन- यह एक शक्तिशाली पदार्थ है जो एक्सर्साइज़ के दौरान शरीर में ऊर्जा का उत्पादन बढ़ा देता है जिससे कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं।

एल-कार्निटीन- इससे शरीर में वसा कोशिकाओं का वितरण नियंत्रित होता है क्योंकि यह वसा कोशिकाओं के फैलने की मात्रा को रोकती है जिनके कारण मोटापा आता है।

अदरक के सत्त- यह पाचन तंत्र के क्रियाकलापों में सहयोगी होता है और कब्ज जैसी समस्याओं की रोकथाम करता है।

 green coffee grano hindi

यह कैसे काम करती है?

ग्रीन कॉफी एक्सट्रैक्ट पाचन में कार्बोहाइड्रेट के सोखने की प्रक्रिया को नियंत्रित करती है। शरीर में त्वचा के नीचे वसा (सबक्यूटेनस फैट) जम जाती है जिससे माँसपेशियों में वसा ऊतकों का आकार बढ़ता जाता है। शरीर में ऊतकों और वसा कोशिकाओं की इस तरह की अवांछित वृद्धि के लिए आपके शरीर में कार्बोहाइड्रेट कम जाने चाहिए लेकिन शरीर अधिक खाने की आदत से डाइटिंग में शिफ्ट करने में दिक्कतें महसूस करता है क्योंकि इसके लिए उसे आपके भोजन में ही एडजस्ट हो सकने वाली चीजों की जरूरत होती है। जब त्वचा के नीचे जमी वसा कम होने लगती है तो आप दुबले होने लगते हैं। यह सप्लिमेंट मुख्य रूप से आपकी भूख कम कर देता है क्योंकि इसमें पाए जाने वाले क्लोरोजेनिक एसिड से कार्बोहाइड्रेट की खपत कम होती है और शरीर का मैटाबॉलिज़्म तेज हो जाता है।

संभावित लाभ

नीचे कुछ ऐसे क्लीनिकल तौर पर प्रमाणित लाभ बताए गए हैं जिन्हें वजन कम कर रहे लोगों ने खुद रिपोर्ट किया है। सही डोज़ और संतुलित भोजन लेकर आप बिना नकारात्मक प्रभावों के एक आदर्श वजन मेनटेन कर सकेंगे:

  •  वसा तेजी से जलने लगती है
  •  शरीर में वसा का वितरण स्वस्थ और संतुलित होने लगता है
  •  भोजन के दौरान मैटाबॉलिक गति तेज बन रहती है
  •  वसा ऊतकों पर असर होता है

मुझे इसे कैसे लेना चाहिए?

आपको बस इसकी मात्रा और सीमित उपयोग पर ही ध्यान देना है। इसे हमारे प्रोफेशनल डाइट एक्सपर्ट द्वारा बताई मात्रा में ही लें या मदद के लिए प्रोडक्ट की वेबसाइट चेक करें।

Green Coffee Grano कहाँ से खरीदी जा सकती है?

Green Coffee Grano को खरीदना बहुत आसान है। आपको बस नीचे दिए बैनर पर क्लिक करके खरीद की जानकारी ठीक से भरनी है। इसके बाद खुद को वेबसाइट पर रजिस्टर कर लें और वजन कम करने के लिए प्रोफेशनल मदद पाएँ। इसके बाद अपना मनपसंद ऑफर चुन लें।

green grano

Green Coffee Grano की कीमत: भारत में वजन कम करने का फॉर्मूला पाएँ!
3.8 (75.38%) 13 votes

संबंधित पोस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *