स्तंभन दोष

By | October 24, 2018

ओवरव्यू

  • फ्लैसिड और स्तंभित लिंग

स्तंभन दोष (नपुंसकता), सेक्स के लिए पर्याप्त स्तंभन हासिल करने व बनाएं रखने में अक्षमता है।

समय-समय पर होने वाली स्तंभन समस्या, आवश्यक रूप से चिंता का विषय नहीं है।यदि स्तंभन दोष सतत समस्या हो तो ये तनाव पैदा कर सकती है, आपके आत्म-विश्वास को प्रभावित कर सकती है। स्तंभन पाने या बनाए रखने की समस्याएं किन्ही अंतःनिहित स्वास्थ्य स्थितियों का लक्षण भी हो सकता है जिसे उपचार की जरूरत हो और जो हृदय रोग के लिए जोखिम कारक होता है।

यदि आप स्तंभन दोष के बारे में चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर से बात करें – भले ही आपको शर्म आती हो। कभी-कभार किसी अंतःनिहित स्थिति का उपचार स्तंभन दोष को पलटने के लिए पर्याप्त होता है। अन्य मामलों में, दवाएं या अन्य प्रत्यक्ष उपचारों की जरूरत हो सकती है।

लक्षण

consultation with a doctor

स्तंभन दोष लक्षण में निम्नलिखित शामिल हो सकते हैं:

  • स्तंभन हासिल करने में समस्या
  • स्तंभन बनाए रखने में समस्या
  • घटी हुई यौन इच्छा

डॉक्टर से कब मिलें

जब आपको स्तंभन समस्या हो तो शुरुआत में पारिवारिक डॉक्टर से मिलना बेहतर विकल्प है। यदि निम्नलिखित हो तो अपने डॉक्टर से मिलें:

  • आपको अपने स्तंभन के बारे में चिंता हो या आपको अन्य सेक्स संबंधीा समस्याएं जैसे शीघ्र या विलंबित स्खलन जैसी समस्याएं हो तो
  • आपको डायबिटीज़, हृदय रोग या अन्य ज्ञात स्वास्थ्य स्थितियां हों जो आपके स्तंभन दोष से संबंधित हों
  • यदि आपको स्तंभन दोष के साथ दूसरे लक्षण दिखें

कारण

पुरुषों में उत्तेजना एक जटिल प्रक्रिया है जिसमें दिमाग, हार्मोन्स, मनोभाव, भावनाएं, मांसपेशियां और रक्त वाहिकाएं शामिल हैं। स्तंभन दोष का कारण इनमें से कोई भी समस्या हो सकती है। इसी तरह, तनाव व मानसिक स्वास्थ्य चिंताएं भी स्तंभन दोष को और बदतर कर सकती हैं।

कभी-कभार शारीरिक व मनोवैज्ञानिक समस्याएं मिल कर स्तंभन दोष पैदा करती हैं। उदाहरण के लिए एक छोटी शारीरिक स्थिति जो आपकी सेक्स प्रतिक्रिया को धीमी करती है, स्तंभन को बनाए रखने में बेचैनी का कारण हो सकती है। परिणामी बेचैनी से स्तंभन दोष और बदतर हो सकता है।

स्तंभन दोष के शारीरिक कारण

signs of erectile dysfunction

अनेक मामलों में स्तंभन दोष का कारण शारीरिक भी होता है। आम कारणों में शामिल हैं:

  • हृदय रोग
  • बाधित रक्त वाहिकाएं (एयरोस्क्लेरोसिस)
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल
  • उच्च रक्तचाप
  • डायबिटीज
  • मोटापा
  • मेटाबॉलिक सिंड्रोम – एक ऐसी स्थिति जिसमें बढ़ा हुआ रक्तचाप, उच्च इंसुलिन स्तर, कमर के पास चर्बी की जमावट और उच्च कोलेस्ट्रॉल शामिल है।
  • पर्किन्सन रोग
  • मल्टीपल सिरोसिस
  • कुछ नुस्खे वाली दवाएं
  • तंबाकू का उपयोग
  • पेरोनी रोग – लिंग के अंदर घाव वाले ऊतकों का विकास
  • शराबखोरी व दूसरे प्रकार के नशीलापदार्थों का सेवन
  • अनिद्रा दोष
  • प्रॉस्टेट कैंसर या बढ़े हुए प्रॉस्टेट के लिए उपचार
  • पेल्विक क्षेत्र या मेरूरज्जु को प्रभावित करने वाली सर्जरी या चोट

स्तंभन दोष के मनोवैज्ञानिक कारण

स्तंभन को पैदा करने वाली शारीरिक घटनाओं को ट्रिगर करने में दिमाग महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, जिसमें यौन उत्तेजना के भाव की शुरुआत शामिल है। यौन भावनाओं से अनेक चीजें हस्तक्षेप कर सकती है और स्तंभन दोष को पैदा व बदतर कर सकती हैं।इनमें शामिल हैं:

  • अवसाद, बेचैनी या दूसरी मानसिक अवस्थाएं
  • तनाव
  • तनाव, खराब संवाद या दूसरी चिंताओं के कारण संबंधों की समस्याएं पनपती हैं

जोखिम कारक

आप जैसे-जैसे उम्र हासिल करते जाते हैं स्तंभन हासिल करने में अधिक समय लग सकता है जो कि उतना कठोर नहीं भी हो सकता है। स्तंभन हासिल करने व उसे बनाए रखने में आपको अपने लिंग अधिकाधिक प्रत्यक्ष छुवन की अधिकाधिक जरूरत हो सकती है।

स्तंभन दोष में अनेक कारक योगदान दे सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • चिकित्सा स्थितियां, विशेष रूप से डायबिटीज़ या हृदय की स्थितियां
  • तंबाकू का उपयोग, जो रक्त प्रवाह को नसों और वाहिकाओं में प्रवाहित होने को सीमित करता है और – समय के साथ – गंभीर स्वास्थ्य स्थितियों के कारण स्तंभन दोष हो सकता है।
  • अधिक वजन होना, विशेष रूप से अगर आप अधिक मोटे हैं
  • कुछ मेडिकल उपचार, जैसे पोस्टेट सर्जरी या कैंसर के लिए रेडिएशन उपचार
  • चोटें, विशेष रूप से यदि वे उन नसों या वाहनियों को क्षति पहुंचाएं जो स्तंभन को नियंत्रित करती हैं
  • दवाएं जैसे अवसाद रोधी, ऐंटी हिस्टामाइन और वे दवाएं जो रक्तचाप, दर्द या प्रोस्टेट की परिस्थितियों का उपचार करती हैं
  • मनोवैज्ञानिक स्थितियां, जैसे तनाव, बेचैनी या अवसाद
  • नशीली दवाओं व अल्कोहल का उपयोग, विशेष रूप से अगर आप लंबे समय से नशीली दवाएं ले रहे हों या भारी मात्रा में शराब पीते हों

जटिलतायें

स्तंभन दोष से जुड़ी जटिलताओं में निम्नलिखित शामिल हो सकते हैं:

  • असंतोषजनक सेक्स जीवन
  • तनाव व बेचैनी
  • निम्न आत्म सम्मान या शर्मिंदगी
  • संबंधों की समस्याएं
  • अपनी पार्टनर को गर्भवती करने में अक्षम होना

रोकथाम

स्तंभन दोष की रोकथाम का सबसे अच्छा उपाय स्वस्थ जीवन शैली चुनाव करना और किन्ही मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों का प्रबंधन करना है। उदाहरण के लिएः

  • डायबिटीज़, हृदय रोग या अन्य स्वास्थ्य स्थितियों के प्रबंधन के लिए अपने डॉक्टर के साथ काम करें।
  • अपने डॉक्टर से नियमित जांच व मेडिकल परीक्षण कराते रहें।
  • धूम्रपान छोड़ दें, अल्कोहल को सीमित करें या इससे बचें, और अवैध दवाओं का उपयोग ना करें।
  • नियमित व्यायाम करें।
  • तनाव कम करने के उपाय करें।
  • बेचैनी, अवसाद या अन्य मानसिक स्वास्थ्य चिंताओं के लिए सहायता हासिल करें।

स्तंभन दोष
Rate this post

संबंधित पोस्ट

One thought on “स्तंभन दोष

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *