लिंग के आकार में बृद्धि कैसे करें

By | July 27, 2018

Contents

क्या लिंग के आकार को बढ़ा पाना संभव है?

चलिए इस बात के लिए १००% खुलकर बात करते हैं. हम ३ से ५ इंच की लंबाई बढ़ने की बात नहीं कर रहे हैं और न ही मोटाई बढ़ने के बारे में बात कर रहे हैं.

मैं ऐसी कोई भी बात नहीं कहूँगा जो १००% बकबास हो

लेकिन, हम इस बात को तो कहेंगे कि लिंग के आकार में ५ इंच की वृद्धि करना लगभग असंभव ही है.

हालांकि, ३/४ इंच की वृद्धि या कम से कम १ इंच की वृद्धि तो पूरी तरह से संभव है.

जब हम लिंग वृद्धि के बारे में बात कर रहे होते हैं तो हमारा तात्पर्य होता है कि लम्बाई में औसतन १.५ इंच की वृद्धि होगी और प्रत्येक व्यक्ति के जीवनकाल में दो इंच तक की वृद्धि हो सकती है.

क्या लिंग के आकार को बढ़ा पाना संभव है?

इसलिए, यदि आप ५ इंच लंबाई बढ़ने की उम्मीद कर रहे थे तो आप अपने ब्राउज़र में बैक बटन को भी दबा सकते हैं क्योंकि हम उस पर बात नहीं करने वाले हैं.

हालांकि, यदि आप अपने लिंग के आकार में थोड़ी वृद्धि करना चाहते हैं और अपने आत्मविश्वास को बढ़ाना चाहते हैं, तो आप एकदम सही जगह पर हैं.

क्या मैंने आपको इस बात के बारे में बताया कि ये सभी विधियां पूरी तरह से प्राकृतिक हैं (जिनको पिछले दशक में वैज्ञानिक सबूतों का खूब समर्थन मिला है) और अपनी लागत की पूरी भरपाई करती हैं?

इस बात के उल्लेख की तो आवश्कता ही नहीं है कि यह दुनिया भर में बेहद लोकप्रिय हो रहा है.

लिंग की लंबाई को कैसे बढ़ाएं

लिंग की लंबाई को कैसे बढ़ाएं

लिंग की लंबाई बढ़ाना काफी सरल होता है.

आपको बस इतना करना है कि इसे खींचकर ट्रेन करना होता है.

इन सभी विधियों में लिंग को “खिंचाव” के माध्यम से ट्रेनिंग दी जाती है.

सबसे पहले तो हम यह बताने जा रहे हैं कि यह क्यों काम करता है.

उसके बाद हम लंबाई को बढ़ाने की लोकप्रिय प्रशिक्षण विधियों के बारे में बताएँगे.

इसके काम करने के पीछे का विज्ञान कुछ यूँ है:

लिंग के आकार वृद्धि के पीछे का विज्ञान

लिंग के आकार वृद्धि के पीछे का विज्ञान

इसके कारण खिचाव काम करता है:

आप अपने लिंग के ऊतको में छोटे-छोटे व्यवधानों को पैदा करते हैं, जिन्हें माइक्रो-टियर्स के नाम से जाना जाता है.

इन माइक्रो-टियर्स के लिए आपके शरीर की प्राकृतिक प्रतिक्रिया यही होती है कि इन चोटों को सही किया जाये और इसे पहले से कहीं अधिक लम्बा और मजबूत बनाया जाए.

यह लगभग पारंपरिक बॉडीबिल्डिंग (भार प्रशिक्षण) की तरह ही होता है.

वजन प्रशिक्षण में इसे हाइपरट्रॉफी कहा जाता है.

वहीँ लिंग के खिचाव के व्यायामों में इसे हाइपरप्लासिया कहा जाता है.

दोनों के बीच मुख्य अंतर यही होता है कि सेल हाइपरट्रॉफी में प्रत्येक ऊतक बड़ा हो जाता है जिसके चलते आकार में वृद्धि बस दिखाई पड़ने लगती है.

वहीँ सेल हाइपरप्लासिया के मामले में माइक्रो-टियर्स को अधिक कोशिकाओं के माध्यम से भर दिया जाता है जिससे आपके लिंग के ऊतकों में वास्तविक वृद्धि होती है फिर वह वृद्धि चाहे दृश्य स्तर पर या फिर भौतिक स्तर पर.

सेल हाइपरप्लासिया की सबसे अच्छी बात यह होती है कि इसके परिणाम अनिवार्य रूप से स्थायी होते हैं.

वहीँ जिम में वेट ट्रेनिंग के परिणाम? स्थायी नही होते हैं.

क्या आपने कभी किसी की “शेप को ख़राब होते हुए” देखा है? अगर लम्बे समय तक व्यायाम न किया जाये तो अनिवार्य रूप से सभी मांसपेशियां अपना आकार खो देती हैं.

लेकिन ऐसा केवल हाइपरट्रॉफी के मामले में होता है, हाइपरप्लासिया के मामले में नहीं.

यह वास्तव में एक अत्यधिक महत्वपूर्ण तथ्य है.

यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आपको अपने जीवनकाल में केवल एक बार लिंग प्रशिक्षण करना होगा. एक बार प्रशिक्षण ले लेने के बाद आप अपनी पूरी ज़िन्दगी इससे मिले परिणामों का लुत्फ़ उठा सकते हैं.

क्लिनिकल अध्ययनों से प्राप्त सबूत

इसके लिए मात्र हमारे शब्दों पर विश्वास न करें.

क्लिनिकलप्रयोगशालाओं ने खिचाव की विधियों पर अध्ययन करने के लिए जानकारी एकत्रित की है.

परिणाम कुछ इस प्रकार से हैं.

(क्लिनिकल अध्ययनों को विशेष रूप से लिंग एक्सटेंडर उपकरणों के साथ किया गया था.)

इस तरह के एक अध्ययन के लिए क्लिनिकल परिणाम यहां दिए जा रहे हैं:

पूरे अध्ययन को यहां पर देखा जा सकता है.

कमाल की बात है ना? इस अध्ययन से पता चलता है कि लिंग विस्तारक उपकरण के ६ महीने के उपयोग के बाद खड़े लिंग में औसतन ०.७१ इंच की वृद्धि हुई थी!

अब आप बताइए आप क्या चाहते हैं, लेकिन वास्तव में इतना भी बहुत अधिक है, विशेष रूप से तब जबकि लिंग वृद्धि को लगभग असंभव ही माना जाता था – अब हमने साबित कर दिया है कि यह असंभव नहीं है.

लिंग को खींचने के व्यायाम

लिंग के लिए लगभग १५ अलग-अलग खिचाव वाले अभ्यास हैं.

यदि आप उनको तुरंत शुरू करना चाहते हैं – तो हम आपको सिखाएंगे कि सभी अभ्यासों को कैसे करें.

लिंग एक्सटेंडर उपकरण

लिंग एक्सटेंडर उपकरण

 

हर समय केवल लिंग को खीचने में ही व्यस्त नहीं रहना चाहते हैं?

ऐसे में आप अपने खीचने के काम को किसी लिंग एक्सटेंडर उपकरण के माध्यम से आटोमेटिक रूप से करवा सकते हैं!

हमारी अल्टीमेट लिंग एक्सटेंडर मार्गदर्शिका को देखें – और जानें कि वे कैसे काम करते हैं, और आपके खरीदने के लिए सबसे अच्छा कौन रहेगा.

हैंगर और वेट

पिनिस एनलार्जमेंट हैंगर और वेट:

पिनिस एनलार्जमेंट हैंगर और वेट

पिनिस हैंगर और वेट भी संकर्षण विस्तारक उपकरण होते हैं.

हालांकि, उपकरण की लम्बाई से संकर्षण बनाने के बजाए, संकर्षण को वेट के माध्यम से बनाया जाता है, जिसमे लिंग से लटकता हुए वेट गुरुत्वाकर्षण बल की मदद से मदद करता है.

वेट लिफ्टिंग की तरह, आप डिवाइस से लटकते हुए वजन को बढ़ाते हैं, इसमें धीरे-धीरे आप अपने अनुभव और अभ्यास के साथ प्रगतिपथ पर अग्रसर होते हैं.

हालांकि इन डिवाइसों से अच्छी मात्रा में खिचाव प्रेरित हो सकता है, जिससे इनका उपयोग करना बहुत ही असुविधाजनक हो सकता है, जब तक कि आप इनका उपयोग करने के लिए एक विशिष्ट समय और स्थान का चुनाव न कर सकें.

लिंग की मोटाई को कैसे बढ़ाएं

लिंग परिधि एक माप होती है जो बतलाती है कि आपके लिंग का शाफ्ट कितना चौड़ा या मोटा है.

लिंग परिधि को बढ़ाने का विज्ञान लंबाई बढ़ाने के समान ही है – केवल विकास की दिशा बाहर की तरफ़ होती है, लंबाई के अनुसार नहीं.

महिलायें यौन सुख में लिंग की परिधि को एक बहुत ही महत्वपूर्ण कारक मानती हैं.

मेंस फ़िटनेस के मुताबिक, एक आश्चर्यजनक बात सामने आयी कि जब बात पुरुषों के जननांगों की आती है तो महिलाओं के लिए सबसे महत्वपूर्ण होता है कि आपके लिंग के बाल कितने स्वच्छ और अच्छी तरह से काटे हुए हैं.

लेकिन इसके तुरंत बाद लिंग की मोटाई आती है और निश्चित रूप से ही यह उनके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है.

तो आप मोटाई को कैसे बढ़ाते हैं?

इसको बढ़ाने के कुछ तरीके हैं जिन्हें आप कर सकते हैं.

हमारे पाठक अनुमोदन करते हैं!

अपने लिंग का आकार बढ़ाने के लिए हमारे पाठकों ने सफलतापूर्वक XTRA MAN जेल का प्रयोग किया. इस टूल की इतनी अधिक प्रसिद्धि देख कर हमने इसे आपके ध्यान में लाने का सोचा.

xtra man cream hindi

अभी ऑर्डर करें

 

जेलकिंग

इसका पहला तरीका बेहद लोकप्रिय है, इस जाने-माने अभ्यास को जेलकिंग कहा जाता है.

जेलकिंग के लोकप्रिय होने के कारण इसका मुफ़्त होना है – आपको व्यायाम करने के लिए केवल अपने हाथों की जरूरत होती है.

इस व्यायाम के खिचाव की प्रकृति के कारण लिंग की लम्बाई में भी थोड़ी-बहुत वृद्धि हो सकती है.

जेलकिंग को सारांशित करने के लिए, यह व्यायाम दूध को दुहने जैसा होता है, बस थन का स्थान लिंग ले लेता है.

आप अपनी उंगलियों के माध्यम से ओके का आकार बनाते हैं और हल्के कठोर (अधिकतम कठोरता का स्तर का ७०-८०%) लिंग को “दुहते” हैं, इसे लिंग के शाफ्ट से ग्लैन्स (मशरूम टिप) तक लेकर जाते हैं.

संक्षेप में यही पूरी प्रक्रिया है.

हालांकि, इसमें अन्य भी कई महत्वपूर्ण तथ्य है जिनके प्रयोग से आप इस व्यायाम को सही तरह से कर सकते हैं.

हमारी अल्टीमेट जेलिंग गाइड में, आप को सीखने को मिलेगा:

● जेल्क को कितनी कठोरता के साथ करना होगा.

● जेलकिंग की लगातार चलने वाली दिनचर्या.

● व्यायाम के समय किस लुब्रिकेंट का उपयोग करें

● किस कोण पर जेल्क करें.

पिनिस पंप्स

हम यहाँ पिनिस पंप के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे.

मोटाई को बढ़ाने के लिए आप एक और उपकरण का उपयोग कर सकते हैं जिसे बाथमेट पंप कहते हैं.

पारंपरिक वायु-आधारित वैक्यूम पंप के विपरीत बाथमेट पंप हमारा पसंदीदा पंप है क्योंकि यह आपके लिंग पर खिंचाव को बनाने के लिए पानी से भरे कक्षों का उपयोग करता है.

वायु-आधारित पंपों की तुलना में यह अधिक सुरक्षित होता है क्योंकि पानी आपके लिंग पर फफोले नहीं पड़ने देता है.

इसके अलावा, दबाव को बनाए रखना और नियंत्रित करना बहुत ही आसान होता है, जिससे यह सुरक्षा कारकों में भी योगदान देता है.

वायु-आधारित वैक्यूम सीधे आपके लिंग की त्वचा पर दबाव डालते हैं जिनसे लिंग की सुरक्षा जोखिम में पड़ जाती है. वहीँ पानी पर आधारित वैक्यूम तरल पदार्थ के माध्यम से पूरे लिंग पर समान रूप से दबाव डालते हैं.

बाथमेट पंप के प्रयोग के तुरंत बाद ही आपको मोटाई में अस्थाई वृद्धि दिखाई पड़ेगी.

हालांकि, दीर्घकालिक मोटाई में वृद्धि इसके लगातार उपयोग के बाद देखने को मिलेगी.

बाथमेट का इस्तेमाल शावर या बाथटब में एकल-दिवसीय प्रशिक्षण सत्रों में किया जाता है जो १० से १५ मिनट के बीच चलता है.

आपकी शुरूआती उम्मीदों के विपरीत वास्तव में बाथमेट का उपयोग करना कष्टप्रद होने के बजाय मजेदार होता है.

आप बाथमेट सत्र के तुरंत बाद मोटाई में हुई वृद्धि को देखने से कभी भी नहीं ऊबेंगे, क्योंकि इसके प्रयोग के बाद आपका लिंग बहुत ही बढ़ जाता है.

पिनिस पंप्स

दबाव

मोटाई को बढ़ाने के ये अभ्यास लिंग के ऊतकों पर दबाव डालने के लिए संपीड़न का उपयोग करते हैं, जिससे कोशिकाओं का विकास होता है और लिंग की वृद्धि को प्रोत्साहन मिलता है. दबाब वाले अभ्यास विशेष रूप से मोटाई को बढ़ाने के लिए अच्छे होते हैं.

कंप्रेसर बहुत ही प्रचलन वाले उन्नत दबाब वाले अभ्यासों में से एक है और मोटाई को बढ़ाने के लिए ये बहुत ही उत्कृष्ट होते हैं. ये दो हाथों का अभ्यास होता है. कंप्रेसर व्यायाम करने के लिए यहां कुछ दिशानिर्देश दिए जा रहे हैं:

१. अपने लिंग के आधार को कसकर ओवरहेड ओके-पकड़ से पकड़ लें.

२. अपने दूसरे हाथ को एक ओवरहेड ओके-पकड़ में रखें, उस क्षेत्र को कसकर पकड़ें जहां पर आपके लिंग की ग्लैंस शाफ्ट से मिलती है. ग्लैंस पर प्रत्यक्ष रूप से दबाव न डालें.

३. लिंग के शाफ्ट को दबाते हुए धीरे-धीरे दोनों हाथों को एक दूसरे की ओर लाएं.

४. जब लिंग का शाफ्ट दबा हुआ होता है तब शाफ्ट को आगे-पीछे की ओर झुकाएं, इस तनाव से लिंग के विकास में मदद मिलेगी.

सामान्य लिंग वृद्धि सप्लीमेंट्स

सामान्य लिंग वृद्धि सप्लीमेंट्स

आप लिंग के आकार को बढ़ाने के लिए सामान्य, रोज़ाना खाने वाले खाद्य पदार्थों को देख सकते हैं जिन्हें खाकर आप लिंग के आकार को बढ़ा सकते हैं.

हालांकि, यहां कुछ गैर परंपरागत जड़ी बूटियों के बारे में बताया जा रहा है जिन्हें खाकर आप अपने लिंग के आकार को बढ़ा सकते हैं:

हर्बल सप्लीमेंट्स

सबसे लोकप्रिय हर्बल उपायों में आमतौर पर निम्नलिखित में से एक या एक से अधिक तत्व शामिल होते हैं:

● एल- आर्जनाइन

● ओमेगा -३ फैटी एसिड

● हॉर्नी गोट वीड

● योहिम्बे

● विटामिन ए, बी, सी, और ई

कृत्रिम सप्लीमेंट्स

बाज़ार में उपलब्ध कुछ ख़ास सप्लीमेंट्स:

● Hammer of Thor – लिंग वृद्धि में सहायक, कठोरता को बढ़ावा देता है, अधिक तीव्र चरमोत्कर्ष, और कामेच्छा में वृद्धि

● Xtra-Man – सहनशक्ति और लिंग की कठोरता में वृद्धि होती है

● विगआरएक्स प्लस – लिंग वृद्धि के लिए ख़ास सप्लीमेंट, कठोरता, सहनशक्ति में वृद्धि, पहले से कहीं अधिक तीव्र ऑर्गैज़म

नोट: किसी अनुभवी और विश्वसनीय स्रोतों से इनकी पुष्टि करने का कोई भी विकल्प नहीं है. इसलिए इस बात को सुनिश्चित करें कि आपने किसी भी हर्बल उत्पाद या सप्लीमेंट का उपयोग करने से उसके बारे में सब कुछ जांच लिया है – ऊपर सूचीबद्ध जड़ी बूटियों की हम सिफारिश करते हैं इसके बाद आप स्वयं से भी अन्य विकल्पों की तलाश कर सकते हैं.

लिंग वृद्धि सर्जरी

सर्जरी लिंग को बढ़ाने का सबसे अंतिम, जोखिम भरा तरीका है.

इसका प्रभाव स्थायी और तुरंत प्राप्त होने वाला होता है.

लिंग की ढीली अवस्था में विकास आसानी से दिखाई पड़ता है, इसलिए इस बात को अच्छी तरह से सुनिश्चित कर लें कि सर्जरी से आपके ढीले लिंग के आकार में वृद्धि हो सकती है, खड़े लिंग में नहीं.

लिंग वृद्धि सर्जरी कैसे काम करती है

लिंग वृद्धि सर्जरी में लिंग के विभिन्न हिस्सों में चिकित्सकीय स्तर पर परिवर्तन किए जाते हैं.

आप जिस ध्येय के लिए इतने प्रयास कर रहे हैं उसको पाने के लिए अलग-अलग प्रक्रियाएं हैं.

लम्बाई को बढ़ाने के लिए, इनर पिनिस के लिगामेंट्स जो कि पब्लिक बोन से जुड़े होते हैं उन्हें तोड़ दिया जाता है, जिससे इनर पिनिस आगे की तरफ़ बढ़ जाता है.

चौड़ाई को बढ़ाने के लिए, शाफ्ट की त्वचा के नीचे इंजेक्शन के माध्यम से फैट को डाला जाता है, या फिर त्वचा के नीचे, लिंग शाफ्ट के चारों ओर एक सेलुलर मैट्रिक्स शीट को लपेट दिया जाता है.

ग्लान्युलर एन्हांसमेंट में लिंग के सिर को इंजेक्शन के माध्यम से फैट को डालकर बड़ा किया जाता है, तथा इसके आनुपातिक स्तर को बनाए रखने के लिए सर्जरी भी की जा सकती है.

जैसे आपकी नाक, गालों की हड्डियों, या स्तनों के लिए अलग-अलग तरह की प्लास्टिक सर्जरी होती हैं, वैसे ही लिंग की शल्य चिकित्सा प्रक्रियाओं में भी लंबाई, मोटाई या अन्य किसी विशिष्ट भाग के लिए भी अलग-अलग प्रक्रियाएं होती हैं; बड़े लिंग को प्राप्त करने के लिए कोई एक सार्वभौमिक समाधान नहीं है.

लिंग वृद्धि सर्जरी के जोखिम में शामिल हैं:

● खड़े लिंग के कोण में कमी का आना

● खड़े होने में समस्या का आ जाना (सही से कड़ापन व ऑर्गैज़म न होना)

● तंत्रिका में क्षति का होना या संवेदना की कमी

● इसमें अन्य कई संभावित जटिलतायें होती हैं यहाँ तक कि मौत भी

सामान्य लिंग वृद्धि प्रक्रियाएं

 

लिंग वृद्धि के लिए तीन प्राथमिक सर्जरियों का उपयोग किया जाता है:

१. लिगामेंट को अलग करना

२. त्वचीय प्रत्यारोपण

३. ग्लेनुलर एन्हांसमेंट

लिंग की कठोरता को कैसे बढ़ाएं

यदि आपके लिंग का आकार लम्बा है लेकिन काम के समय अगर यह ठीक से खड़ा नहीं हो सकता है तो ऐसी लम्बाई किस काम की.

आइए एक कदम पीछे लेकर इस बात को समझने का प्रयास करें कि यह कैसे काम करता है.

जब लिंग ढीला या लटकता हुआ होता है, तो इसका मतलब होता है कि लिंग में कोई भी रक्त प्रवाह नहीं है. लेकिन जब आप अपने लिंग के अधिकतम कठोर आकार में होते हैं, तो उस समय रक्त प्रवाह अधिकतम होता है.

यही रक्त लिंग की सभी कोशिकाओं और रंध्रमय ऊतकों की गुहाओं में प्रवाहित हो रहा होता है.

मुझे यकीन है कि आप इस बात को पहले से ही जानते होंगे, लेकिन जैसे-जैसे आपकी उम्र बढती है, वैसे-वैसे आपके लिंग में रक्त बहने की क्षमता कम होती जाती है.

इसे कड़ेपन की समस्या कहा जाता है.

हालांकि सिर्फ इसलिए कि आप बूढ़े नहीं हैं, इसका मतलब यह बिलकुल भी नहीं है कि आपका लिंग इस समस्या का शिकार नहीं हो सकता है.

असल में ऐसे भी कुछ लोग होते हैं जो बहुत अधिक पोर्न देखते हैं जिससे वे असली जीवन में सेक्स के समय कड़ेपन को पाने में दिक्कतों का सामना करते हैं.

मैं फिर से इस बात को कह रहा हूँ, अगर आपको किसी भी कारण से लिंग के कड़े होने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है तो आप आकार को बढ़ाने में फ़ालतू में ही अपने समय को बर्बाद कर रहे हैं क्योंकि इसका कुछ भी उपयोग नहीं होगा.

यही कारण है कि PhalloGauge Team इस बात पर लगातार जोर देती है कि पुरुषों के लिंग आकार वृद्धि के साथ-साथ उनके समग्र यौन स्वास्थ्य में रक्त प्रवाह कितना महत्वपूर्ण होता है.

रक्त प्रवाह में सुधार और कठोरता को बढ़ाने के लिए आप एक अभ्यास कर सकते हैं जिसे कीगल्स के नाम से जाना जाता है.

मूल रूप से, यह महिलाओं का एक अभ्यास था, लेकिन हार्वर्ड मेन हेल्थ जर्नल इसके फ़ायदों को पुरुषों के लिए भी स्वीकार करता है.

संक्षेप में, कीगल्स आपकी पीसी मांसपेशियों को निचोड़ने का व्यायाम होता है, जो कि आपके टेस्टिकल्स और गुदा के बीच के क्षेत्र में स्थित होती हैं.

इन मांसपेशियों को प्रशिक्षित करके आप कठोर कड़ापन और ऑर्गैज़म के समय स्पर्म की शानदार धार पा सकते हैं.

यह व्यायाम स्वाभाविक रूप से लिंग में रक्त के प्रवाह में वृद्धि कर देता है. नतीजतन, आपको अच्छा समग्र कड़ापन प्राप्त होता है, जिससे सम्भोग के समय आप लगातार अपने लिंग के अधिकतम आकार को प्राप्त कर लेते हैं.

लिंग में रक्त प्रवाह को बढ़ाने और आकार को अधिकतम करने के लिए एक और लोकप्रिय तकनीक है जिसे एजिंग के नाम से जाना जाता है.

जब आप एजिंग कर रहे होते हैं तो आपका प्रयास होता है कि आपके लिंग की कठोरता ८०-९०% तक ही रहे.

इसका लक्ष्य १००% उत्तेजना स्तर को प्राप्त करना नहीं होता है अन्यथा आपको चरमोत्कर्ष प्राप्त हो जायेगा. अगर ऑर्गैज़म हो गया तो एजिंग प्रशिक्षण विफल हो जाता है – ऐसे में फिर से ताक़त आने के बाद पुनः प्रयास करें.

स्वाभाविक रूप से, आप इस समय अपने लिंग में रक्त प्रवाह को अधिकतम कर रहे होते हैं, लेकिन इसका एक और पक्ष यह होता है कि आप अपने दिमाग और लिंग के कनेक्शन को मजबूत कर रहे होते हैं ताकि सेक्स के दौरान आपका पानी बहुत जल्दी न निकल जाए.

समयपूर्व स्खलन और कड़ेपन के दोष के इलाज के लिए यह एक अच्छा अभ्यास है.

हालांकि, अगर आप कीगल्स या एजिंग करने के हिसाब से बहुत आलसी हैं, तो आप अपने लिंग के चारों ओर लपेटने के लिए थर्मल रैप का उपयोग कर सकते हैं, जिससे गर्मी अन्दर ही बनी रहती है और आपके लिंग में वैसोकन्स्ट्रिक्शन या रक्त वाहिकाओं के संकुचित होने जैसी समस्या नहीं आती है.

ये रैप स्वाभाविक रूप से आपके लिंग में किसी भी समय बिना किसी प्रयास के रक्त प्रवाह को बढ़ा देते हैं.

आपको बस इतना करना होता है थर्मल रैप को लगा लें और लाभ का मज़ा लें.

मेरे लिंग के आकार को बढ़ाने में इसे कितना समय लगेगा?

यह सब इस बात पर निर्भर करता है कि आप इसमें कितना समय देते हैं और कितना प्रयास करना चाहते हैं.

कुल मिलाकर, आप जितना अधिक समय और प्रयास इसमें लगायेंगे, आपको उतने ही अधिक परिणाम प्राप्त होंगे.

यह बात तो जाहिर है कि आपको परिणाम एक निश्चित बिंदु तक ही प्राप्त होंगे. जैसा कि हमने लेख की शुरुआत में कहा था कि आप अपने लिंग के आकार को ५ इंच से अधिक नहीं बढ़ा सकते हैं.

इसके पीछे का कारण अनुवांशिक सीमा का होना है जो आपको ऐसा करने से रोकती है.

लेकिन, जैसा कि हमने लेख की शुरुआत में कहा था, हर व्यक्ति अपने जीवनकाल में कम से कम २ इंच तक अपने लिंग के आकार को बढ़ाने की उम्मीद कर सकता है.

आप चाहे तो मुझे पागल कहें, लेकिन यह बहुत ही अच्छा आकार है, जबकि औसत आकार ५.५ इंच का होता है.

अपनी उम्मीदों को नियंत्रित रखना बहुत ही महत्वपूर्ण है. ऐसे में इस प्रकार के आकार को प्राप्त करने में लगने वाला समय आमतौर पर ४ से ६ महीने के बीच में होता है.

इतने समय के प्रयासों के बाद आपको निश्चित रूप से आकार में वृद्धि दिखाई पड़ेगी.

दोबारा, हम इस बात को जोर देकर कहना चाहेंगे कि ये परिणाम मसल्स वेट प्रशिक्षण के विपरीत स्थायी होते हैं, जिन्हें आपको अपने जीवन में बनाए रखने के लिए हर दिन घंटों लगे रहना पड़ता है.

तो ऐसे में अगर आप चाहते हैं कि वृद्धि हमेशा बरक़रार रहे तो ऐसे में आपको हमेशा व्यायाम करते रहना होगा.

पिनिस एनलार्जमेंट सेफ्टी – क्या यह सुरक्षित है?

यदि आप इसे सही तरीके से करते हैं तो यह १००% सुरक्षित है.

जटिलतायें तब आती है जब लोग बहुत ही महत्वाकांक्षी और अधीर हो जाते हैं और सीमाओं को लांघकर अधिक अभ्यास करना शुरू कर देते हैं.

फिर वे अपनी खुद की गैर जिम्मेदारी के कारण किसी लिगामेंट को खींच देते हैं या रक्त वाहिका को फाड़ देते हैं.

यदि आप जिम जाते हैं और आप जिम में पहली बार गए हैं, तो आप सीधे ५० किलो वाले डंबल नहीं उठाएंगे, हैं ना?

वैसे ही लिंग के आकार में भी यह १००% सही होता है.

बस इसके बारे में स्मार्ट रहें, धीरे-धीरे शुरू करें, और फिर धीरे-धीरे ही अपनी उन्नति के रास्ता को तय करें जिससे आपके लिंग का आकार भी बढ़ जाएगा और आपको बलि का बकरा भी नही बनना पड़ेगा.

फिर भी, हम आपको सलाह देंगे कि अपने लिंग के आकार को बढ़ाने की कोशिश करने से पहले अपने डॉक्टर या किसी यूरोलोजिस्ट से अवश्य ही परामर्श ले लें.

लिंग के आकार बढ़ाने की कोशिश करते समय इन सामान्य गलतियों से बचें

वास्तव में यहां कुछ और सामान्य गलतियाँ हैं, जिन्हें लोग सूचीबद्ध गलतियों के अलावा करते हैं, हम उन गलतियों के बारे में बात करने जा रहे हैं जिन्हें आपको निश्चित रूप से जानने की आवश्यकता होती है.

ओवरट्रेनिंग

अन्य नियमित फिटनेस की तरह, इसमें भी ओवरट्रेनिंग से बचने का प्रयास किया जाना चाहिए क्योंकि यह अवांछित होता है.

यह आमतौर पर तब होता है जब लोग बहुत उत्तेजित हो जाते हैं और अभ्यास के दौरान बहुत तेज़ी से या बहुत देर तक लिंग खींचना शुरू कर देते हैं.

ओवर ट्रेनिंग से सबसे बड़ा नुकसान यह होता है कि जब आप खुद को चोट पहुंचा लेते हैं, तो आप खुद को १ – ३ महीने पीछे कर लेते हैं – जो कि समय की बहुत बड़ी हानि होती है.

ऐसा इसलिए है क्योंकि आपको खुद को ठीक करने में समय बिताना पड़ता है – यह बिलकुल उस एथलीट के समान है जो अपनी एसीएल छतिग्रस्त कर लेता है या पैर को तोड़ लेता है.

प्राकृतिक लिंग वृद्धि के उपाय सबसे तेज़ प्रक्रियाओं में नहीं आते है, इसलिए चोट के किसी भी तरह के झटके से आप खुद के बोझ बढ़ा लेते हैं.

बहुत तेज़ी से न खीचने के मामले में आप यह सुनिश्चित करें कि अभ्यास के दौरान आपको तीव्र दर्द महसूस न हो.

यदि आप इस साधारण नियम का पालन करते हैं तो आप ओवर ट्रेनिंग से बहुत अधिक ताक़त नहीं लगायेंगे.

ओवर ट्रेनिंग में तेज़ी से खीचने की समस्या अक्सर आती है, क्योंकि जब एक बार किसी को दर्द महसूस होता है, तो वे उसके बाद रुक जाते हैं – दर्द के प्रति यही प्राकृतिक प्रतिक्रिया होती है.

जटिलतायें तब आती हैं जब लोग सोचते हैं कि उन्हें परिणाम प्राप्त करने के लिए दर्द को महसूस करना होगा – यह पूरी तरह से असत्य है, और अब आप ये बेहतर तरह से जानते हैं!

अन्य किसी फिटनेस ट्रेनिंग की तरह, सफलला का एक बहुत ही महत्वपूर्ण पहलू रिकवरी भी है.

जब लोग हर दिन खींचने में बहुत अधिक समय बिताते हैं ऐसे में आप ओवरट्रेनिंग की दहलीज़ पर होते हैं.

विशेष रूप से, आपको अपने शरीर को आराम करने के लिए हर दिन पर्याप्त समय देने की आवश्यकता होती है जिससे लिंग के ऊतकों को पहले से बड़ा और मजबूत होने का समय मिलता है.

तो बहुत लंबे समय तक खींचकर ओवरट्रेनिंग से बचने का सामान्य नियम क्या है?

मैनुअल पिनिस स्ट्रेचिंग अभ्यास में, एक दिन में २० मिनट से अधिक व्यायाम न करें.

वे लोग जो लिंग विस्तारक उपकरणों का उपयोग करते हैं, वे एक दिन में ६ घंटे से अधिक समय तक इनका उपयोग न करें.

फिर यदि आप इन सरल नियमों का पालन करते हैं तो आप ओवरट्रेनिंग जैसी समस्याओं के शिकार नहीं होंगे.

अंडरट्रेनिंग

अंडरटेरिंग एकदम विपरीत होती है, लेकिन यह भी अवांछनीय परिणाम प्रदान करती है.

अंडरटेरिंग को समझना बहुत ही आसान है: यह तब होता है जब आप या तो काफी मेहनत नहीं करते हैं या फिर आप लंबे समय तक लिंग को नहीं खींचते हैं.

फिर से हम सामान्य फिटनेस से तुलना करके इसको समझायेंगे: अन्य किसी फिटनेस की तरह, आप हमेशा खुद को चुनौतीपूर्ण बनाना चाहेंगे.

तो यदि आप खिंचाव करते हैं और आपको कोई दर्द नहीं महसूस होता है, तो यह देखने का प्रयास करें कि क्या आप थोड़ा और अधिक खींच सकते हैं या नहीं. फिर, यह देखने का प्रयास करें कि क्या आप और थोड़ी देर तक खीचे रह सकते हैं.

इससे आपको अपनी प्रगति पर नज़र रखने में और रिपोर्ट बनाने में मदद मिलती है, जैसे कि जिम जाने वाले लोग अपनी प्रगति को नोटबुक में दर्ज करते हैं. वे किए गए अभ्यासों और इस्तेमाल किए गए वजन का ब्यौरा रखते हैं.

तो अंडरट्रेनिंग से बचने का सामान्य नियम क्या है?

नियम यह है कि, यदि आपको लगता है कि आप थोड़ा और ताक़त लगा सकते हैं या थोड़ी और देर के लिए खीच सकते हैं, तो शायद आप अभ्यास को सही ढ़ंग से नहीं कर रहे हैं.

लॉग्स से आपको सहायता मिलती है और आप देख सकते कि आपने कितनी देर तक अभ्यास किया, इससे आप अपने अभ्यासों का यह रिकॉर्ड भी प्राप्त कर सकते हैं कि आपके लिए कौन सा अभ्यास काम करता है और कौन सा अभ्यास काम नहीं करता है.

मैन्युअल खिचाव का अभ्यास लिंग एक्सटेंडर उपकरण पहनने की तुलना में थोड़ा अधिक कठिन होता है क्योंकि इसमें खिचाव की ताकत और और खिचाव में लगे समय को स्थिर और लगातार बरक़रार रखना होता है.

लिंग एक्सटेंडर उपकरणों में यह समस्या नहीं आती है क्योंकि उसमे आपको केवल एक्सटेंडर में दबाब को निर्धारित करना होता है और फिर आप इसे एक निश्चित समय के लिए पहनते हैं – आम तौर पर दिन में ३ से ४ घंटे.

इसके अतिरिक्त, लिंग एक्सटेंडर उपकरणों में, आपको किसी “डाउनटाइम” की दिक्कत नहीं होती है जिसे आपको प्रत्येक मैनुअल खिचाव के बीच में अनुभव करना पड़ता है.

एक आम गलती यह होती है कि लोग अनजाने में २० मिनट तक अपने मैनुअल स्ट्रेचिंग के सत्र को तो करते हैं, लेकिन वे उस समय के हिसाब में गड़बड़ी कर देते हैं, जिसमे प्रत्येक खिचाव के बाद वे कुछ समय के लिए रुकते हैं.

तो इससे क्या होता है कि उन्हें लगता है कि उन्होंने २० मिनट तक व्यायाम किया है, लेकिन वास्तव में उन्होंने केवल १३ मिनट ही व्यायाम में बिताए हैं.

अगर आप लिंग एक्सटेंडर उपकरणों के साथ निर्धारित निर्देशों का पालन करते हैं तो आपको कोई दिक्कत नहीं है, और आप न ही ओवरट्रेनिंग करेंगे और न ही अंडरट्रेनिंग.

मुख्य बात यह है कि मैन्युअल खिचाव के अभ्यासों में आपको अधिक प्रयास करना पड़ता है- मानसिक और शारीरिक स्तर दोनों पर ही.

लेकिन यदि आप मैन्युअल स्ट्रेचिंग दिनचर्या का पालन करने का फैसला करते हैं, तो आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आप इन गलतियों से बच कर रहें.

उचित रक्त प्रवाह न मिल पाना

उचित रक्त प्रवाह न मिल पाना

लिंग में उचित रक्त प्रवाह का न होना भी एक और बड़ी गलती है जिसे अक्सर हमने लोगों को करते हुए देखा है.

वे सोचते हैं कि वे अपने लिंग को खीच सकते हैं और अभ्यास कर सकते हैं और उन्हें मनचाहा आकार हासिल हो जायेगा.

लेकिन यह सच से कोसों दूर होता है.

अभ्यास और लिंग एक्सटेंडर उपकरण की मदद से आपको अपने लिंग के ऊतक को प्रशिक्षित करने और तोड़ने की सुविधा मिलती है.

लेकिन यह बहुत ही महत्वपूर्ण है कि आपके लिंग में पर्याप्त रक्त प्रवाह हो जिससे आपके ऊतकों की रिकवरी हो सके.

तीव्र रक्त प्रवाह से आपके ऊतकों को पोषक तत्व मिलते हैं ताकि आपका लिंग मजबूत और बड़ा हो सके.

तीव्र रक्त प्रवाह की महत्ता को याद रखने का सबसे आसान तरीका यह होता है कि बिना आवश्यक सामग्री के आप कुछ भी नहीं बना सकते हैं.

इसका मतलब है कि आपको किसी भी तरह अपने लिंग के ऊतकों के लिए बिल्डिंग ब्लॉक देना होगा.

यह कैसे होगा? आपके रक्त के प्रवाह से!

दुर्भाग्यवश, अश्लील साहित्य और अन्य अतिव्यापी तस्वीरों की इंटरनेट पर धूम से, कई लोग अपने आप अपने रक्त प्रवाह को ठंडा कर देते हैं, जिससे उनके लिंग को खड़ा होने में बहुत ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ता है.

यदि आप १५ मिनट कोशिश करने के बाद भी अपने लिंग को खड़ा नहीं कर पा रहे हैं, तो शायद आप कड़ेपन की समस्या से पीड़ित हैं.

यह आपके लिंग खींचने के अभ्यास को और लंबाई के परिणामों के साथ आपकी प्रगति को भी प्रभावित करेगा.

याद रखें, बिना रक्त प्रवाह के ऊतक बढ़ने में सक्षम नहीं होंगे और आपके लिंग की लंबाई में भी वृद्धि नहीं होगी.

लेकिन रक्त प्रवाह केवल लंबाई के लाभ के लिए नहीं होता है, वास्तव में इससे यह भी पता चलता है कि सेक्स के दौरान आप अधिकतम कितने आकार तक पहुचने के बाद टिके रह सकते हैं.

इसलिए वास्तव में रक्त प्रवाह दो पहलुओं में महत्वपूर्ण है.

इसे अप्रासंगिक रूप में न देखें.

अंत में, हर व्यक्ति के लिए लिंग के आकार को बढ़ाना १००% संभव है.

जैसा कि हमने इस लेख में पाया है, इसमें बहुत प्रयास होते हैं, लेकिन हमारी साइट पर मौज़ूद सभी गाइडों और ट्यूटोरियल की मदद से, आप किसी अन्य औसत लड़के से हज़ारों सालों आगे रहेंगे और आपको कभी भी इंटरनेट पर कुछ भी इधर-उधर खोजना नहीं पड़ेगा कि क्या काम करता है और क्या नहीं करता है. आप किसी भी प्रकार की विवादित जानकारी से भ्रमित होने से भी बचे रहेंगे.

इसके अतिरिक्त चूँकि प्राकृतिक वृद्धि १००% संभव है, इसलिए इसमें तकनीकी प्रगति की मदद से आप अपने समय और मेहनत दोनों को ही स्वचालित खींचने की प्रक्रियाओं के माध्यम से बचा सकते हैं.

 

हमारे मूल समाधान को लाइक करें.

इस तरह की उन्नति से अब पृथ्वी के हर एक लड़के के लिए प्राकृतिक रूप से लिंग की लम्बाई को बढ़ाना बहुत ही आसान है.

लिंग वृद्धि सर्जरी के वे दिन बीत गए जब आपको उन पर लाखों रुपये खर्च करने पड़ते थे, उसके बाबजूद भी फ़ायदे से कहीं अधिक उनसे नुकसान होता है.

वैसे भी, PhalloGauge team प्राकृतिक लिंग वृद्धि की दुनिया के आपके किसी भी प्रश्न के उत्तर देने के लिए और आपकी सहायता करने के लिए सदैव तत्पर रहेगी.

लिंग के आकार में बृद्धि कैसे करें
3.5 (70%) 4 votes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *