पोर्न से प्रेरित कड़ेपन की समस्या क्या है और क्या यह वास्तव में ईडी का कारण बन सकता है?

By | August 6, 2018

पोर्न से प्रेरित कड़ेपन की समस्या एक प्रकार का ईडी है जो आज की इंटरनेट वाली पीढ़ी में व्यापक रूप से फैल गया है. पोर्न युवाओं और पुरुषों की यौन जिज्ञासाओं और कल्पनाओं को पूरा करने का एक माध्यम बन गया है. पोर्न देखने का एक वैध तरीका आपको ज्ञान दे सकता है और कल्पनाओं को उत्तेजित कर सकता है, लेकिन इसका अत्यधिक प्रयोग आपको यौन समस्याओं के अंधेरे में फ़ेक सकता है.

कड़ेपन की समस्या के साथ-साथ समय से पहले स्खलन, यौन उत्तेजना में कमी, कमजोरी जैसी समस्याएं भी आयेंगी. पोर्न की लत किसी आदमी की यौन शक्ति और क्षमता को नष्ट कर देती है.

अत्यधिक अश्लील सामग्री देखने के कारण यौन समस्याओं से पीड़ित लोगों की असंख्य संख्या मौज़ूद है और इसी पोर्न देखने की आदत के चलते वे अपनी आंतरिक क्षमताओं को पहचानने में नाकाम रहते हैं. एक समय के बाद इस पोर्न देखने की लत से छुटकारा पाना पूरी तरह असंभव हो जाता है. उनका दिमाग पोर्न देखने का इतना आदी हो जाता है कि जब वे वास्तविकता में सेक्स करते हैं तो उन्हें उसमें कोई भी आनंद या उत्तेजना नहीं मिलती है.

पोर्न की लत मनुष्य की यौन शक्ति और कुशलता को ख़त्म कर देती है. अत्यधिक अश्लील सामग्री देखने के कारण यौन समस्याओं से पीड़ित लोगों की असंख्य संख्या मौज़ूद है और इसी पोर्न देखने की आदत के चलते वे अपनी आंतरिक क्षमताओं को पहचानने में नाकाम रहते हैं. एक समय के बाद इस पोर्न देखने की से छुटकारा पाना पूरी तरह असंभव हो जाता है. उनका दिमाग पोर्न देखने का इतना आदी हो जाता है कि जब वे वास्तविकता में सेक्स करते हैं तो उन्हें उसमें कोई भी आनंद या उत्तेजना नहीं मिलती है.

अश्लील

इरेक्टाइल डिसफंक्शन क्या है और पोर्न द्वारा प्रेरित इरेक्टाइल डिसफंक्शन क्या है?

इरेक्टाइल डिसफंक्शन एक यौन विकार है जिसमें आदमी का लिंग महिला की योनि में घुसने के लिए सही से कड़ा नहीं हो पाता है. ज्यादातर मामलों में लिंग कड़ा तो होता है लेकिन कड़ापन योनि में जाने के लिए पर्याप्त कठोर नहीं होता है, जबकि अन्य मामलों में मुँह में सेक्स करने से या अन्य उपायों के बाद भी लिंग कड़ा नहीं होता है.

दूसरी तरफ पोर्न द्वारा प्रेरित इरेक्टाइल डिसफंक्शन एक यौन विकार है जो अत्यधिक पोर्न देखने से होता है. इस मामले में आपका दिमाग वास्तविक सेक्स को लेकर सुस्त हो जाता है और आपका लिंग खड़ा नहीं हो पाता है. लेकिन जब आप पोर्न देखते हैं तो आप उत्साह, पूर्ण उत्तेजना से भर जाते हैं और आपका लिंग कठोर हो जाता है. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह व्यक्ति कितना ही प्रयास क्यों न कर लें, असली यौन समबन्ध बनाने के समय उसका लिंग कड़ा नहीं हो पाता है. कड़ेपन की यह असफलता उसके आत्म सम्मान को नुकसान पहुंचाती है और आपके साथी के साथ बने हुए रिश्ते को भी चोट पहुंचाती है.

पोर्न की लत क्या है?

पोर्न की लत एक प्रकार का व्यसन है जो आपके दिमाग को पोर्न देखने का आदी बना देता है. इस स्थिति में डोपामाइन नामक एक विशेष प्रकार का रसायन रिलीज होता है और जिसके चलते इस तरह का स्राव आपके दिमाग को पोर्न का आदी बना देता है.

आपका दिमाग उसी तरह से सोचना शुरू कर देता है. आपको असली सेक्स में कोई उत्तेजना या ताजगी महसूस नहीं होती है. वहीं जब आप पोर्न देख रहे होते हैं तो आप उत्तेजित महसूस करते हैं. इस तरह की समस्या का सामना उन्हें करना पड़ता है जो हर दिन पोर्न देखते हैं; यह आपके समग्र स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है.

छोटी उम्र में, जब किसी व्यक्ति को पोर्न फिल्म देखने के परिणामों के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होती है ऐसे में वे इस अश्लील व्यसन के जाल में पड़ जाते हैं. वे लोग जो चरम सीमा पर पहुंचने में असफल होते हैं, वे स्थिरता और सहनशक्ति का अनुभव पाने के लिए पोर्न का सहारा लेते हैं लेकिन बदले में पोर्न उन्हें नया जीवन देने के बजाय कमजोरी, उदासी और निराशा के घोर अँधेरे में धकेल देती है. यह केवल आपको पोर्न प्रेरित इरेक्टाइल डिसफंक्शन और समय से पहले पानी का निकल जाना जैसी समस्याओं का शिकार बनाती है.

शोक

पोर्न की लत के लक्षण

  • उपयोगकर्ता पोर्न न देखने के असफल प्रयास करता है. वह इतनी गहरी खाईं में गिर जाता है कि पोर्न देखना उसकी आदत बन जाती है और वह इससे छुटकारा नहीं पा सकता है.
  • पोर्न की लत वाला व्यक्ति आसानी से परेशान हो जाता है, क्रोधित होता है और निराश दिखता है. अगर उसके अपने प्रियजन उससे पोर्न न देखने के लिए कहें तो वह क्रोधित और चिडचिडा हो सकता है.
  • वह पोर्न देखने के लिए लालायित होना शुरू हो जाता है. ऐसा तब होता है जब कोई व्यक्ति पोर्न से दूरी रखने की कोशिश करता है. उसके दिमाग में पोर्न को देखने की घंटी बजती रहती है.
  • कोई व्यक्ति जिसे पोर्न की लत लग जाती है वो अन्य लोगों से अलग रहने लगता है. यहां तक ​​कि जब वे रिश्ते में होते हैं तो वे अपने रहस्यों को गुप्त रखने की कोशिश करते हैं और कैसे भी करके पोर्न देखने के लिए समय निकाल लेते हैं.
  • पोर्न की लत अक्सर रिश्ते को चोट पहुँचाती है, नौकरी का नुकसान और जीवन में अन्य नकारात्मक प्रभावों की ओर लेकर जाती है. फिर भी व्यक्ति पोर्न के चलते आये परिणामों को देखने में विफल रहता है और इन सब समस्याओं के लिए अपनी अक्षमताओं को दोष देता है. इससे अवसाद और नकारात्मकता आती है.
  • यदि कोई व्यक्ति पोर्न देखने का आदी है तो उसका अपने साथी के साथ अंतरंगता और मजबूत भावनात्मक लगाव कभी भी स्थापित नहीं हो सकता है. वह यौन गतिविधियों में शामिल होने के ट्रिगर्स को खोजने में विफल रहता है और उसके दिमाग का एक निश्चित हिस्सा इतना सुस्त हो जाता है कि वह इस तरह की भावनाओं को महत्व ही नहीं देता है.
  • पोर्न की लत से पीड़ित व्यक्ति अन्य सभी कार्यों को बंद करके पोर्न को देखने के लिए समय निकाल लेता है. यह समस्या उसके समय के एक बड़े हिस्से को खा जाती है.
  • कोई व्यक्ति जो अधिक पोर्न देखता है वह उत्तेजना और संवेदनशीलता को लेकर बहुत ही उदास हो जाता है, जिसके चलते वह और अधिक पोर्न देखने लगता है. इससे उसके तंत्रिका तंत्र और व्यवहार में भी नकारात्मक परिवर्तन आते हैं.

क्या आप पोर्न की लत से पीड़ित हैं???

उत्तर का पता लगाने के लिए इन “प्रश्नों” को अपने आप से पूछें…

यदि आप इस स्थिति में हैं या उसी तरफ़ जा रहे हैं तो आपको अपने कार्यों में सावधान रहना चाहिए. आप अपने बहुमूल्य समय और स्वास्थ्य को नष्ट करने जा रहे हैं. आराम से रहें क्योंकि पोर्न की लत की इस समस्या को सकारात्मक दृष्टिकोण और उपचार के माध्यम से सही किया जा सकता है.

अपनी पोर्न की लत के कारणों को समझें.

अपनी पोर्न की लत के कारणों को समझना बहुत महत्वपूर्ण है. पोर्न की लत अक्सर मन की भावनाओं के दमन का परिणाम होती है. यदि आप इसे स्वयं नहीं तलाश पा रहे हैं, तो अपने साथी से या किसी विशेषज्ञ से परामर्श लें. जैसे ही समस्या आपके दिमाग से शुरू होती है आप इसे दबा नहीं सकते हैं. आपको अपनी जीवन में चीजों को संतुलित करते हुए समस्या को सुलझाने का सही रास्ता खोज़ना होगा.

आपको यह समझना होगा कि सेक्स करने की इच्छा एक प्राकृतिक इच्छा है और इसलिए इसे दबाया नहीं जा सकता है लेकिन इसे अपने व्यवहार पर शासन भी न करने दें. सेक्स करने के अलावा और भी बहुत सारे कार्य होते हैं. मैं एक ऐसे व्यक्ति से कहीं अधिक बढ़कर हूँ जो सिर्फ़ दूसरों को देखकर मजा लेता है.

आखिरकार वे केवल अभिनेता ही तो हैं जो बार-बार बेहतर और हॉट प्रदर्शन करने के लिए अभ्यास करते हैं. वे लड़कियां कैमरे के सामने तो सुंदर हो सकती हैं लेकिन वास्तविकता में वे ऐसी नहीं है. यह आपकी कल्पना है जो आपके तर्क को चुप कर दे रही है.

बुरा मूड

अपनी कल्पना को असली दुनिया पर शासन न करने दें. आपको शुरुआत में यह थोड़ा उबाऊ और अजीब लग सकता है क्योंकि आपका दिमाग डोपामाइन के अचानक बढ़े हुए स्तर का आदी है लेकिन आपको अपनी भावनाओं और दूसरों की भावनाओं को भी महत्व देना है. अपने क़रीबी लोगों के साथ समय बिताएं. उन गतिविधियों में समय बिताएं जिनमे आपको चुनौतियों का सामना करना पड़े और खुद पर विश्वास करके उन्हें प्राप्त करने का प्रयास करें.

पोर्न की लत का कारण अक्सर वास्तविक जीवन में सेक्स की इच्छा का जोरदार दमन होता है. जब आपको असली सेक्स पार्टनर नहीं मिल पाता है या जब आप अपने साथी के साथ अपनी यौन इच्छाओं को पूरा करने में सक्षम नहीं होते हैं, तो आप उन कल्पनाओं को पूरा करने के लिए पोर्न का सहारा लेते हैं.

यद्यपि आपकी कल्पनाएं तो साकार हो जाती हैं, लेकिन आप पोर्न के जाल में फस जाते हैं जहां आप अपनी यौन, शारीरिक और मानसिक क्षमताओं को नष्ट करना शुरू कर देते हैं. कुछ अन्य कारणों में जीवन की विफलतायें, अकेलापन, अंतर्दृष्टि प्रकृति जैसी अन्य चीजें हो सकती हैं जो आपके दिमाग को पोर्न की तरफ़ झुका देती हैं.

कैसे पोर्न-प्रेरित इरेक्टाइल डिसफंक्शन का इलाज करें?

इस समस्या को ठीक करने के लिए एक सही दृष्टिकोण आवश्यक है. आपको चिकित्सकीय सहायता और मानसिक सहायता दोनों की ही आवश्यकता होगी. आपको अपने लिए खड़े रहना होगा. यहां तक ​​कि यदि आप बहुत कमजोर हैं, तो भी आपको ऐसा करना होगा क्योंकि आपका जीवन और आपकी यौन शक्ति से महंगा कुछ भी नहीं हो सकता है. इसे ही पौरुष के रूप में जाना जाता है और इसी तरह से आप अपने पौरुष को साबित कर सकते हैं.

अश्लील फ़िल्मों में दिखाई जाने वाली उन सभी खूबसूरत महिलाओं के साथ यौन संबंध की कल्पना करने से पहले, अपने लिए खड़े होना सीखें और फिर अपनी यौन कमज़ोरियों और मानसिक कमजोरियों को ठीक करें. जिसके लिए आपको Hammer of Thor कैप्सूल के जैसे किसी विकल्प की आवश्यकता होगी जो प्राकृतिक रूप से शरीर में नई यौन ऊर्जा और शक्ति को पैदा कर देता है. इस दवा के उपयोग से आप न केवल अपनी यौन कमजोरियों से बल्कि कड़ेपन की समस्या से भी छुटकारा पा लेंगे.

hammer of thor capsules hindi

Hammer of Thor कैप्सूल Hashmi Pharmacy का एक शानदार उत्पाद है. यह दवा पूरी तरह से हर्बल और शुद्ध जड़ी बूटियों से बनी हुई है. यह एक दवा सभी यौन विकारों के लिए कारगर होती है. इसके घटक लिंग की गहराई में जाकर सभी तरह की कमजोरियों और सुन्नता को दूर करने में मदद करते हैं.

इसका निरंतर उपयोग लिंग के कार्यों को फिर से सही कर देता है और लिंग के ऊतकों में नयी जान फूँक कर उन्हें फिर से सक्रिय कर देता है. इस तरह से यह पोर्न की लत के चलते आयी समस्याओं को सही कर देता है. इसके अलावा आपको दवा से लाभ प्राप्त करने के लिए अपनी विचार प्रक्रिया में भी परिवर्तन लाना होगा.

अधिक उत्पादक गतिविधियों पर ध्यान केंद्रित करें, अपने प्रियजनों के साथ समय बिताएं, अपने दोस्तों के साथ समय बिताएं इससे आपको अपनी लत से छुटकारा पाने में मदद मिलेगी. इस दवा को नियमित रूप से लें, पोर्न देखना बंद कर दें, और फिर सप्ताहांत पर अपने साथी के साथ यौन संबंध बनायें.

आपके कड़ेपन की समस्या का इलाज़ दवा द्वारा किया जायेगा और जैसे-जैसे आपको वास्तविक सेक्स में मज़ा आने लगेगा वैसे-वैसे आपकी पोर्न देखने की लत गायब होने लगेगी.

Hammer of Thor का कोर्स २-३ महीने का होता है जिसमें यह यौन प्रदर्शन और कड़ेपन के विभिन्न पहलुओं पर काम करता है. इस दवा का कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होता है इसलिए यह किसी भी जोखिम से पूरी तरह से सुरक्षित है. इस दवा को विभिन्न स्वास्थ्य मानकों पर जांचा गया है और लाखों मरीजों पर इससे सफल परिणाम प्राप्त हुए हैं.

hammer of thor order

पोर्न से प्रेरित कड़ेपन की समस्या क्या है और क्या यह वास्तव में ईडी का कारण बन सकता है?
4.3 (86.67%) 9 votes

संबंधित पोस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *