क्या आपका लिंग छोटा है? उपाय हाजिर हैं

By | October 29, 2018

लिंग का औसत आकार से छोटा होना आज पुरुषों के लिए असुरक्षित महसूस करने का सबसे बड़ा कारण बन गया हैं। मीडिया ने हमें यह अच्छी तरह समझा दिया है कि मर्दानगी का हमारे लिंग के आकार के साथ सीधा संबंध है।

पोर्नोग्राफी (कामोद्दीपक लेख, तस्वीरें, वीडियो) से हमें यही लगता है कि चौदह इंच से छोटा लिंग तो घटिया ही है। बहुत से लोगों को यह पता नहीं है कि भले ही वे अपने लिंग को घटिया मानते हों, पर वास्तव में वह औसत लम्बाई का ही है।

सर्वेक्षणों ने यह निर्धारित किया है कि खड़े लिंग का राष्ट्रीय औसत आकार लगभग 5.6 “(14.2 सेमी) लंबा और 4.8” (12.1 9 सेमी) की परिधि का होता है। याद रखें कि यह केवल औसत है। (भारतीय औसत?)

यदि आपका लिंग इन मानदंडों से कम का हो, तो यह मान बैठना उचित नहीं है कि आप किसी महिला को खुश करने में असमर्थ हैं। बल्कि किसी भी निष्कर्ष पर पहुँचने से पहले आपको निम्नलिखित कुछ बातों पर अवश्य विचार कर लेना चाहिए:

अपने लिंग को सही ढंग से मापें

अपने वास्तविक आकार को स्वीकार करें

अपने लिंग को अपनी संगिनी के अंदर बड़ा महसूस करने में सहयोगी सर्वोत्तम मुद्राओं को जानें

मौखिक और गुदा सेक्स के विशेषज्ञ बनें

लिंग को बढ़ाने की अनुभूत विधियों पर विचार करें

ध्यान दें: वैज्ञानिक रूप से पुष्टि की गई ऐसी कई विधियां मौजूद हैं जो 3-6 महीनों में आपके लिंग के आकार को स्थायी रूप से बढ़ाने में मदद कर सकती हैं। इनका वर्णन नीचे उपाय # 5 में दिया गया है।

अपने लिंग को मापने का सही तरीका

अपने लिंग को सही ढंग से मापने के लिए आपको कुछ सामग्रियों की आवश्यकता होगी। एक मापक, एक कलम या पेंसिल और कागज का एक टुकड़ा ले लें। अपने लिंग को मापना वास्तव में कोई सबसे कामुक प्रक्रिया नहीं है, लेकिन यदि आप सटीक माप प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको अपने लिंग को उसके पूरे सामर्थ्य की लम्बाई तक खड़ा करना होगा।

अपने लिंग को पूरी तरह से खड़ा करने के लिए अपनी पसंदीदा वयस्क साइट या स्पैंक-बैंक में किसी वीडियो को चालू करें!

लंबाई का मापन

एक परिपूर्ण लिंगोत्थान प्राप्त कर लेने के बाद मापक को अपने लिंग के आधार पर रखें। सबसे सटीक माप के लिए मापक को अपनी जघन हड्डी में मजबूती से दबाएं।

अब मापक के आधार पर कागज़ के टुकड़े को रखें, और उसे अपने लिंग के साथ स्वाभाविक रूप से घुमाते हुए उसकी नोक तक ले जाएं। जहां यह समाप्त हो वहां एक निशान लगा दें।

अब आप कागज के आधार से अपने निशान तक की दूरी को मापने के लिए मापक का उपयोग कर सकते हैं। यह आपके लिंग की लंबाई को मापने का सबसे सटीक तरीका है।

परिधि का मापन

परिधि को नापना भी बहुत आसान है। आपको पहले वाले मापक के साथ ही धागे के एक टुकड़े की जरूरत होगी। फिर अपने लिंग का सबसे चौड़ा हिस्सा खोजकर उसके चारों ओर धागे को लपेट दें। धागा जहां अपने दूसरे छोर से मिलता है उसे चिह्नित करने के लिए अपने नाख़ून से दबाकर रखें।

धागे के चिन्हित स्थान पर अपने नाख़ून को दबाये रखते हुए उसे टेबल पर सीधा रखें। अपने परिधि को निर्धारित करने के लिए धागे की छोर से उस चिन्हित स्थान तक की दूरी को माप लें।

तो अब आप अपने लिंग के सटीक माप के साथ ही पैमाने पर अपनी स्थिति को भी जान चुके हैं। सौभाग्य से, यदि आपका लिंग कुछ ज्यादा ही छोटा है तो इस स्थिति में सुधार करने के लिए कई विधियां मौजूद हैं।

उपाय # 1 – अपने शरीर और अपनी स्थिति को स्वीकार करना सीखें

यदि सही ढंग से माप लेने के बावजूद आपका लिंग औसत आकार से थोड़ा छोटा साबित होता है, तो परेशान होने की कोई जरुरत नहीं है। याद रखें कि औसत आकार केवल एक औसत है। अर्थात् 50% आबादी का लिंग इस माप से छोटा है।

यद्यपि अधिकांश पुरुष इस बारे में बात करना पसंद नहीं करते, याद रखें कि ये 50% लोग बिलकुल आप ही के जैसी भावनाओं और असुरक्षाओं का अनुभव कर रहे हैं। एक छोटा लिंग होने से आपकी मर्दानगी कोई कम नहीं हो जाती, न ही इसका मतलब यह है कि आप किसी महिला को खुश करने में अक्षम रहेंगे।

अब भी बहुत से ऐसे उपाय हैं जिन्हें आप अपने छोटे लिंग से सबसे बेहतरीन परिणाम प्राप्त करने के लिए आजमा सकते हैं।

उपाय # 2 – छोटे लिंग के इन 3 स्थितियों को आजमाएं

छोटे लिंग के इन 3 स्थितियों को आजमाएं

लिंग के बड़े होने को बेवजह ही अत्यधिक महत्वपूर्ण बना दिया गया है। कई यौन मुद्राएँ ऐसी हैं जिन्हें बड़े लिंग वाले पुरुष कर ही नहीं सकते। एक महिला की योनि की गहराई उसके गर्भाशय की स्थिति से निर्धारित होती है, जो विभिन्न यौन स्थितियों में भिन्न भिन्न हो सकती है।

बड़े लिंग वाले पुरुष गर्भाशय पर चोट कर सकते हैं, जो महिला के लिए एक बहुत ही दर्दनाक अनुभव होता है। फिर, महिलाओं को अधिकांश यौन आनंद उनकी योनि के मुख के आसपास मौजूद कई तंत्रिकाओं के अंतिम छोरों से ही मिलता है।

अपनी संगिनी को प्रसन्न करने के लिए ज्यादा से ज्यादा गहराई तक पहुँचने के बजाय सही स्थिति में सही जगहों पर टक्कर मारने की जरुरत होती है।

1. द हाउंड (शिकारी कुत्ता)

यह स्थिति सामान्य कुत्तों की शैली से थोड़ी अलग है। इसमें आपकी संगिनी को अपने घुटनों और हाथों के बल पर झुकने के बजाय अपने आगे की बाहुओं को जमीन पर टिकाकर अपने पिछले हिस्से को ऊपर उठाना होता है।

ऐसा करने से उसकी योनि की गहराई कम हो जाती है, जिससे आप गहराई तक भेदन करके उसके जी-स्पॉट (सबसे कामोद्दीपक अंग) को उत्तेजित करने में सक्षम हो जाते हैं।

2. स्फिंक्स (सिंह का शरीर और स्त्री के चेहरे वाला एक कल्पित पशु)

इस स्थिति में महिला अपने पेट के बल लेट जाती है और अपने पैरों को दोनों तरफ फैला देती है। आप अपने शरीर को उसके शरीर के ऊपर लिटा दें। यह उसके श्रोणि पर अतिरिक्त दबाव डालता है, जिससे आप उसके उन सभी आंतरिक अंगों को उत्तेजित कर सकेंगे जिन्हें आप एक अच्छी परिधि वाले लिंग से कर सकते थे।

3. द बटरफ्लाई (तितली)

आपका लिंग प्रयाप्त लंबा न हो, तो अपने शारीरिक मुद्रा को सटीक कोण में रखना ही आनंददायक सेक्स की कुंजी है। इसके लिए अपनी संगिनी को एक ऊँचे सतह पर पीठ के बल लिटा दें।

एक टेबल अच्छे परिणाम दे सकता है, हालांकि बिस्तर भी बुरा नहीं है।

आप फर्श पर खड़े होकर उसके पैरों को अपने कंधों पर रखकर उसके चूतड़ को ऊपर उठा लें। इस स्थिति से बने कोण में आपके लिंग का संपर्क सीधे उसके जी-स्पॉट के साथ हो जाएगा।

बस इतना ध्यान रखें कि जी-स्पॉट को उत्तेजित करना एक महिला को कामोन्माद प्राप्त करने में मदद करने का सबसे प्रभावी तरीका है।

जी-स्पॉट के उत्तेजन और कामोन्माद का वीडियो

वीडियो प्रदर्शन देखने के लिए ऊपर की छवि पर क्लिक करें

उपाय # 3 – मौखिक सेक्स के विशेषज्ञ बनें

क्या आप जानते हैं कि कई महिलाएं केवल भेदन वाले यौन संबंध से कामोन्माद प्राप्त करने में सक्षम नहीं हैं? समय निकालकर एक महिला को मौखिक रूप से प्रसन्न करने के तरीके को सीख लेना एक प्रेमी के रूप में आपके सबसे अच्छे कौशलों में से एक है।

याद रखें, अपनी संगिनी के साथ संभोग की क्रिया को पर्याप्त समय देना जरूरी है।

महिलाओं को छेड़छाड़ पसंद है, और संभोग को धीमी गति से शुरू करना महत्वपूर्ण है। थोड़ी देर तक उसे चुंबन करने के बाद उसके हाथ पकड़कर उन्हें उसके सिर से ऊपर उठा दें। ऐसा कोमलता से लेकिन अधिकार पूर्वक करें।

उसके गर्दन से चुंबन करना शुरू करें और धीरे-धीरे उसके शरीर में नीचे की और बढ़ें। आपकी संगिनी का शरीर उसकी नारीत्व की पहचान है। अपना काम धीरे धीरे कुछ इस प्रकार से करते हुए नीचे की ओर बढ़ें कि उसे महसूस हो कि आप उसके शरीर के हर अंग को महत्व देते हैं। उसके अंडरवियर को वैसे ही छोड़ दें, लेकिन उसके जाँघिये के त्रिकोण के आसपास चुंबन करना शुरू करें। आप उसे ऐसा नहीं लगने देना चाहेंगे कि वह बहुत ज्यादा अनावृत हो चुकी है।

नीचे उसके पैरों तक प्यार करने के बाद फिर से ऊपर की ओर बढ़ें।

उसके साथ छेड़छाड़ करें।

उसके भग-शिश्न पर धीरे से चुंबन करके उसे सूंघें। उसके अन्दर कसमसाहट शुरू हो जाने पर आप धीरे से उसके जाँघिये को हटा सकते हैं।

उसे कोमलता से चाटें, अपना जीभ उसकी योनि के आधार से भग-शिश्न तक लगभग छेड़ते हुए फेरें। जब वह अपनी पीठ को ऊपर उठाना शुरू करे तो आप अपनी जीभ को उसकी योनि में गहराई तक डाल कर उसे मजबूती से उसके भग-शिश्न तक ले जा सकते हैं।

इसमें थोड़ी सी विविधता लाने का प्रयास करें, केवल एक ही दिशा में चाटते रहने से बचें।

कभी गोल-गोल चाटें तो कभी आड़े-तिरछे, उसे अनुमान लगाने दें। एक तरीका यह है कि उसके भग-शिश्न के निकट ओ.आर.जी.ए.एस.एम. का उच्चारण करने का प्रयास किया जाय। जब वह घर्षण को तेज से और तेज करती हुई महसूस हो, तो अपनी जीभ को उसके भग-शिश्न में और भी मजबूती से डालकर अपनी गति को बढ़ा दें।

आम तौर पर यह वह बिंदु है जब उसे चरम कामोन्माद की प्राप्ति हो जाती है; और विश्वास करें, आपको पता चल जाएगा कि ऐसा कब हुआ!

उपाय # 4 – गुदा सेक्स को आजमाएं

गुदा सेक्स को आजमाएं

गुदा सेक्स से कई महिलाओं को अत्यधिक आनंद मिलता है। योनि के विपरीत, गुदा इतना लचीला नहीं होता। इसका मतलब है कि औसत से छोटा लिंग इसके लिए आदर्श है।

अपनी संगिनी के साथ बात करके यह सुनिश्चित कर लें कि उसे इस क्रिया से कोई परेशानी नहीं है।

एक उंगली द्वारा छोटे स्तर पर शुरू करें और फिर धीरे धीरे आगे बढ़ें। उसके साथ बात करने के लिए समय निकालें और पता करें कि उसे क्या पसंद है। कई महिलाओं के लिए यह एक बिल्कुल नया अनुभव होता है, और उसे यह पता लगाने में थोड़ा समय लग सकता है कि उसे क्या पसंद है।

ध्यान दें: यदि आप गुदा सेक्स को आजमाने का फैसला करते हैं, तो दोनों के लिए एक मजेदार अनुभव को सुनिश्चित करने के लिए पहले प्रयास से पूर्व कृपया इस गाइड को जरूर पढ़ें।

उपाय # 5 – लिंग को बढ़ाने के प्राकृतिक तरीकों को आजमाएं

लिंग को बढ़ाने के प्राकृतिक तरीकों को आजमाएं

यदि आपको अभी भी लगता है कि आपका लिंग थोड़ा और बड़ा होना चाहिए, तो आप कुछ ऐसी चीजें कर सकते हैं जो आपको समय के साथ अपने लिंग को बढ़ाने में मदद करेंगी। सामान्यतः जिन गोलियों का आप ऑनलाइन विज्ञापन देखते हैं वे आम तौर पर काम नहीं करतीं, जबकि ऐसे कुछ व्यायाम हैं जो लिंग के आकार को धीरे धीरे बढ़ाने में कारगर साबित हुए हैं।

1. खिंचाव

एक हाथ से अपने शिथिल लिंग की सुपारी को पकड़ें, और दूसरे हाथ से उसके आधार को थामें। धीरे-धीरे 5-10 सेकंड तक विपरीत दिशाओं में खींचें।

जबकि आपको थोड़ा दबाव महसूस होना स्वाभाविक है, पर सावधान रहें! आपको कोई पीड़ा महसूस नहीं होनी चाहिए। प्रति दिन लगभग 5 मिनट तक ऐसा करें।

2. केगल्स

हर कोई जानता है कि केगल्स (श्रोणी क्षेत्र का व्यायाम) एक महिला के स्वास्थ्य के लिए कितना महत्वपूर्ण है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये व्यायाम आपको अपने लिंगोत्थान पर बेहतर नियंत्रण प्राप्त करने में मदद करेंगे?

आपको सबसे पहले यह जान लेना होगा कि आपकी PC (श्रोणी क्षेत्र) की मांसपेशियां कौन सी हैं।

पेशाब करते समय मूत्र के प्रवाह को रोकने का प्रयास करें, और तब जिन मांसपेशियों में आप तनाव महसूस करते हैं वे ही आपकी PC की मांसपेशियां हैं। इनका संकुचन करने के तरीके को जानकर प्रति दिन 20-30 संकुचन करने का प्रयास करें।

जब इतना सा व्यायाम करना सहज हो जाए, तो आप प्रत्येक दिन संकोचन की संख्या को बढ़ाते हुए अपने PC की मांसपेशियों को और भी मजबूत बना सकते हैं।

3. वैकल्पिक खिंचाव नियम

यदि आप खिंचाव से पहले ही परिचित हैं, तो आप अपने खिंचाव में थोड़ा बदलाव लाना चाहेंगे। इस बार अपने लिंग की सुपारी को एक हाथ से पकड़ें।

इसे स्वाभाविक रूप से थामें ताकि कोई पीड़ा न हो!

अपने दुसरे अंगूठे को अपने लिंग के आधार पर रखकर लिंग को सावधानी से अपने शरीर से बाहर की ओर खींचकर लगभग 15 सेकंड तक थामे रखें, फिर छोड़ दें। 30-सेकंड का ब्रेक लें, और 5-6 मिनट तक इस पूरी प्रक्रिया को दोहराएं।

ध्यान दें: ऐसे और भी व्यायाम हैं जिन्हें आपको आजमाना चाहिए। ऐसे प्रत्येक व्यायाम के लिए यहां दिए गए विस्तृत निर्देशों को पढ़ें।

उपाय # 6 – ऑपरेशन द्वारा लिंग को बढ़ाने के तरीके (अनुशंसित नहीं)

ऑपरेशन द्वारा लिंग को बढ़ाने के तरीके

जबकि ऑपरेशन द्वारा उपचार के विकल्प उपलब्ध हैं, इनका इस्तेमाल केवल तभी किया जाना चाहिए जब कि अन्य सारे विकल्प बेकार साबित हो चुके हों। ये प्रक्रियाएं बेहद महंगी होती हैं, जिसमें अक्सर 10,000 डॉलर से भी अधिक का खर्च हो जाता है।

आरोग्य लाभ की अवधि के दौरान आप लिंगोत्थान प्राप्त करने में असमर्थ हो जाएंगे। कई मामलों में आरोग्य लाभ की अवधि के बाद भी लिंगोत्थान संबंधी समस्याएं बनी रहती हैं। यह आपके यौन कृत्यों से प्राप्त होने वाले आनंद को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकता है।

कई लोग तंत्रिका के टूट जाने की शिकायत भी करते हैं, जिससे लिंग में संवेदना का अभाव हो जाता है। यद्यपि ऐसे मामले में ऑपरेशन एक अंतिम उपाय के रूप में काम कर सकता है, लेकिन हम केवल उन्हीं मामलों में ऑपरेशन की सलाह देते हैं जिनमें लिंग ज्यादा छोटा होने के कारण यौन आनंद प्राप्त करना पहले ही चुनौतीपूर्ण हो।

याद रखें कि शरीर सभी आकारों और आकृतियों के होते हैं। यौन संतुष्टि प्राप्त करने की आपकी क्षमता में आपके लिंग का आकार बहुत ही कम महत्व रखता है। अपने शरीर को रातोंरात बदलने की कोशिश करने के बजाय, इस मार्गदर्शिका में दिए गए सरल उपायों की मदद से आप अपने यौन अनुभवों की गुणवत्ता में काफी सुधार ला सकते हैं।

क्या आपका लिंग छोटा है? उपाय हाजिर हैं
Rate this post

संबंधित पोस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *