Green Coffee For Weight Loss

By | April 4, 2018
Green Coffee For Weight Loss

About DR. RICHA AHUJA

Physical Health And Behavioural Sciences

वजन कम करने में प्रभावशीलता के लिए Green coffee की फलियों के सत की दुनिया भर में चर्चा है। कॉफी की बिना भुनी हुई फलियों को ग्रीन कॉफी कहते हैं और इसमें प्रचुर मात्रा में क्लोरोजेनिक एसिड पाया जाता है। शोध दर्शाते हैं कि क्लोरोजेनिक एसिड विसरल फैट (पेट और कमर के) जमा होने से रोकता है और इसमें एंटी-इन्फ़्लेमेटरी और कार्डियोवैस्कुलर सुरक्षात्मक गुण होते हैं एवं यह इंसुलिन के प्रति संवेदनशीलता बढ़ाता है। ग्रीन कॉफी एक्सट्रैक्ट में कॉफी की तुलना में कैफ़ीन की मात्रा कम होती है। लेकिन ग्रीन कॉफी एक्सट्रैक्ट की वजन घटाने की क्षमताओं पर काफी वाद-विवाद हो रहा है। कोई भी नया विवादास्पद सप्लिमेंट उन लोगों के लिए कौतूहल का विषय होता है जो इनसे वजन कम करना चाह रहे हों। मैंने वजन कम करने में ग्रीन कॉफी एक्सट्रैक्ट की सच्चाई जानने के लिए गहराई में जाने का फैसला किया था। यदि आप भी इस पाशोपेश में हैं कि इसे लें या नहीं लें, तो आगे पढ़ें।

Green Coffee Extract क्या है?

green coffee extrakt

बिना भुनी कॉफी की फली ही ग्रीन कॉफी फली है। इन फलियों को पानी में भिगो कर इनका सत्त निकाला जाता है। आप जो कॉफी रोज़मर्रा में पीते हैं वह भुनी हुई और प्रसंस्कृत होती है और इसलिए यह गहरे कत्थई रंग की होती है और उसकी खुश्बू भी अलग होती है। Green coffee एक्सट्रैक्ट का स्वाद भी आम कॉफी से काफी अलग होता है। यही कारण है कि कॉफी प्रेमी लोगों में ग्रीन कॉफी उतनी लोकप्रिय नहीं है। लेकिन क्या ग्रीन कॉफी से वजन कम हो सकता है या फिर क्या यह सिर्फ एक मिथ्या है? चलिए पता करते हैं।

कॉफी की फलियों में दो प्रकार के फाइटोकेमिकल पाए जाते हैं – कैफ़ीन और क्लोरोजेनिक एसिड। वजन कम करने के गुण क्लोरोजेनिक एसिड में होते हैं। कॉफी को भूनने से क्लोरोजेनिक एसिड नष्ट हो जाता है इसलिए जो लोग कॉफी की मदद से वजन कम करना चाह रहे हैं उनके लिए ग्रीन कॉफी ही उचित होती है। शोधकर्ताओं ने पाया है कि क्लोरोजेनिक एसिड इन्फ़्लेमेशन के कारण हुई वजन वृद्धि और गैलेनिन-मीडिएटेड एडिपोजेनेसिस के लिए जिम्मेदार जींस को नियंत्रित करके इंसुलिन के प्रति संवेदनशीलता बढ़ा देता है। क्लोरोजेनिक एसिड से वसा अवशोषित होना और लिवर में वसा का मैटाबॉलिज़्म भी तेज हो जाता है जिससे वजन कम हो जाता है। Green Coffee एक्सट्रैक्ट से रक्त में शर्करा कम होकर इंसुलिन स्तर तेजी से बढ़ना रुक जाता है। वसा-मैटाबॉलिज़्म और क्लोरोजेनिक एसिड से मोटापे से संबन्धित हॉरमोन सामान्य हो जाते हैं। यह भी पाया गया कि क्लोरोजेनिक एसिड से चूहों में प्लाज़्मा ट्राईग्लीसराइड और कॉलेस्ट्रोल स्तर कम हो गया था। क्लोरोजेनिक एसिड से रक्त में शर्करा का अवशोषण कम होने से भी इससे मोटापा कम होता है।

ऊपर उद्धृत शोधों से यह साफ है कि ग्रीन कॉफी फलियाँ वजन बढ़ने की समस्या पर जड़ से असर करती हैं और इसलिए ये वजन कम करने में बहुत मददगार होती है। ग्रीन कॉफी को कई रूपों में मार्केट किया जाता है। जानें आपके लिए किस तरह की ग्रीन कॉफी सबसे अच्छी होगी।

>>वजन कम करने की तरकीब जानने के लिए यहाँ क्लिक करें<<

वजन घटाने के लिए किस प्रकार की Green Coffee सबसे अच्छी होती है?

Green Coffee Is Best For Weight Loss

घुलनशील Green Coffee

यह बनाने में आसान है और जल्दी बन जाती है। घुलनशील ग्रीन कॉफी को बनाने के लिए बस पानी में एक चाय की चम्मच ग्रीन कॉफी पाउडर मिलानी होती है। घुलनशील ग्रीन कॉफी तीन प्रकार की होती हैं – पाउडर, फ्रीज़ ड्राइड, और ग्रैनूलेटेड। पाउडर कॉफी के लिए ग्रीन कॉफी फलियों को गर्म पानी में उच्च दबाव में पीसा जाता है। फ्रीज़-ड्राइड ग्रीन कॉफी सबसे अच्छी क्वालिटी की घुलनशील ग्रीन कॉफी होती है। इसे बनाने के लिए तेज शक्ति की कॉफी इंफ्यूजन को ठंडा करके जमा देने के बाद वैक्यूम से डीहाइड्रेट करके बनाया जाता है। ग्रैनूलर कॉफी बनाने के लिए कॉफी पाउडर को इखट्ठा करके उसमें से भाप पास की जाती है जिससे वह दानेदार बन जाती है। घुलनशील कॉफी को तुरंत बनाया जा सकता है लेकिन इसमें कैफ़ीन की मात्रा भी अधिक होती है। इसलिए घुलनशील कॉफी की जगह ग्रीन कॉफी एक्सट्रैक्ट एक अच्छा विकल्प होता है। और जानकारी के लिए अगला खंड पढ़ें।

Green Coffee एक्सट्रैक्ट

Green Coffee एक्सट्रैक्ट में सबसे ज़्यादा क्लोरोजेनिक एसिड होता है और इसमें पोषक पदार्थ भी सर्वाधिक होते हैं। यह गोलियों या पाउडर के रूप में बेची जाती है। ग्रीन कॉफी फलियों को प्रसंस्कृत करके कॉफी का अधिकतर क्लोरोजेनिक एसिड निकाल लिया जाता है। हाँ, दुबले होने के लिए ग्रीन कॉफी पाउडर या गोलियाँ लेने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर ले लेनी चाहिए। अब अगला बड़ा सवाल यह है कि आप ग्रीन कॉफी से वजन कम कैसे कर सकते हैं? चलिए पता करते हैं।

वजन कम करने के लिए Green Coffee कैसे उपयोग करें?

Green Coffee For Weight Loss

1. Green Coffee

ग्रीन कॉफी बनाने के लिए मार्केट से ग्रीन कॉफी का एक पैकेट खरीद लें। इन्हें कॉफी ग्राइन्डर या मिक्सी में पीस कर एक कप ग्रीन कॉफी उबाल कर बना लें। शक्कर या आर्टिफ़िशियल स्वीटनर इस्तेमाल न करें। यदि आपको इसे पीकर बोरियत होने लगे तो जल्दी वजन कम करने के लिए साथ में दूसरी चीजें मिलाई जा सकती हैं।

2. पुदीने के पत्तों के साथ Green Coffee

अपनी कॉफी में थोड़ी पुदीने की पत्तियाँ मिलाएँ। 5 मिनट तक रुकें और फिर पिएँ। पुदीने में वजन कम करने के गुण होते हैं और इससे आपके शरीर के विषैले पदार्थ बाहर निकल जाएंगे।

3. दालचीनी के साथ Green Coffee

एक कप पानी में 1 इंच दालचीनी मिलाएँ और रात भर के लिए छोड़ दें। इस पानी से सुबह अपनी ग्रीन कॉफी बनाएँ। दालचीनी से रक्त में शर्करा का स्तर नियंत्रित होता है, इंसुलिन संवेदनशीलता बेहतर होती है, एलडीएल कॉलेस्ट्रोल स्तर कम होता है और इसमें एंटी-इन्फ़्लेमेटरी गुण भी होते हैं।

4. अदरक के साथ Green Coffee

ग्रीन कॉफी उबलते समय उसमें अदरक पीस कर डाल दें। तुरंत न छानें, 5 मिनट रुकें और फिर छान कर पी लें। अदरक में जिंजेरॉल नामक पदार्थ होता है जिसका शरीर पर ऊष्मीय प्रभाव होता है। इससे इंसुलिन संवेदनशीलता भी बढ़ती है।

5. हल्दी के साथ ग्रीन कॉफी

यह थोड़ी अजीब लगती है लेकिन है बहुत असरदार। कॉफी में आधा चाय की चम्मच पीसी हुई हल्दी मिलाकर 3 मिनट के लिए छोड़ दें। हल्दी से वसा मैटाबॉलिज़्म तेज होता है, इंसुलिन संवेदनशीलता बढ़ जाती और इन्फ़्लेमेशन कम होता है जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है।

जैसा कि आप देख सकते हैं, आपको एक जैसी ग्रीन कॉफी पीकर ऊबने की जरूरत नहीं है। लेकिन इसे पीने का सही समय क्या होता है? अगले खंड में पढ़ें।

वजन कम करने के लिए Green Coffee पीने का सबसे अच्छा समय क्या होता है?

Drink Green Coffee For Weight Loss

  • सुबह, एक्सर्साइज़ के पहले या बाद में।
  •  सुबह, नाश्ते के साथ।
  •  दोपहर में खाने के पहले।
  • शाम को स्वस्थ नाश्ते के साथ।

Green Coffee डोज़

वजन कम करने के लिए क्लोरोजेनिक एसिड की मात्रा 200 – 400 मिग्रा/दिन आदर्श मानी जाती है।

लेकिन क्या आप वजन कम करने के लिए कितनी भी मात्रा में ग्रीन कॉफी पी सकते हैं? अगले खंड में उत्तर पढ़ें।

वजन कम करने के लिए Green Coffee के कितने कप जरूरी होते हैं?

हर चीज की अति बुरी होती है। इसलिए ग्रीन कॉफी भी एक दिन में 3 कप से ज़्यादा न पिएँ। जरूरत से ज्यादा ग्रीन कॉफी पीने से ज़्यादा तेजी से नतीजे नहीं मिलते।

टिप: खाने के तुरंत बाद ग्रीन कॉफी न पिएँ।

लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या ग्रीन कॉफी सुरक्षित है? चलिए मैं बताता हूँ।

क्या Green Coffee पीना सुरक्षित है?

कंपनियों द्वारा मार्केट किए जाने वाले कॉफी प्रोडक्ट्स में अलग-अलग सांद्रता में क्लोरोजेनिक एसिड और कैफ़ीन हो सकते हैं। यही नहीं, चूंकि सभी सप्लिमेंट्स एक जैसे नहीं होते, कई बार हाई-क्वालिटी ग्रीन कॉफी के नाम पर घटिया ग्रीन कॉफी भी बेच दी जाती है। हल्की क्वालिटी की ग्रीन कॉफी में पाया जाने वाला कैफ़ीन दूसरी दवाओं और सप्लिमेंट्स से रिएक्शन कर सकता है। इसलिए ग्रीन कॉफी लेने के पहले अच्छे से रिसर्च करें और अपने डॉक्टर से पूछें कि आपके लिए कौन सी ग्रीन कॉफी सबसे उचित रहेगी।

green coffee organic

आदेश अब Green Coffee

Green Coffee पीने के लाभ

Benefits Of Drinking Coffee

मैटाबॉलिज़्म तेज हो जाता है जिससे वसा जलती है।

  • रक्त प्रवाह बेहतर होता है।
  • लिवर के विषैले पदार्थ बाहर निकालने में मदद करती है।
  • हानिकारक कॉलेस्ट्रोल को कम करके रक्त में शर्करा नियंत्रित करने में मदद करती है।
  • ग्रीन कॉफी पीने से आपका पेट ज़्यादा देर तक भरा हुआ लगेगा जिससे आप कम खाएँगे।
  • इससे दिमाग का क्रियाकलाप तेज होता है और आप दिन भर सक्रिय रहते हैं।

चलिए अब इसके साइड-इफ़ेक्ट्स पर के नज़र डालते हैं।

Green Coffee के साइड-इफ़ेक्ट

Side Effects Of Green Coffee

  • मितली
  •  सरदर्द
  • अनिद्रा
  • अपचन
  • एन्ज़ायटी
  • डिप्रेशन
  • हृदय गति तेज होना
  • थकान
  • कैल्सियम और मैग्नीशियम कम हो जाना
  • कानों में भनभनाहट
  • एंटीडिप्रेसेंट्स, डायबिटीज़ और ब्लड-प्रेशर की दवाओं से रिएक्शन

कर सकती है।

और इससे पहले कि आप अपना अंतिम निष्कर्ष निकालें, चलिए वजन कम करने वाले इस जादुई प्रोडक्ट को लेकर चल रहे विवाद के बारे में जानते हैं।

वजन कम करने के लिए Green Coffee – सच या मिथ्या?

हालांकि कुछ शोध-पत्रों ने यह दर्शाया है कि ग्रीन कॉफी एक्सट्रैक्ट से वजन कम हो सकता है लेकिन यू.एस. सीनेट सबकमेटी ऑन साइन्स एंड ट्रांसपोर्टेशन कमेटी इससे सहमत नहीं है। ये कहती है कि शोधों में शामिल प्रतिभागियों की संख्या कम थी और प्रयोग ठीक से डिज़ाइन नहीं किए गए थे। इसलिए यदि ग्रीन कॉफी से वजन कम होना नज़र आने पर भी इसे अल्टिमेट वेट लॉस सप्लिमेंट नहीं कहा जा सकता। जो उत्पादक ऐसा कहते हैं, वे अपने उपभोक्ताओं को गुमराह कर रहे हैं। वास्तव में जब डॉ ऑज़ ने इस सनसनीखेज वेट-लॉस सप्लिमेंट के बारे में अपने शो में 2012 में सबसे पहले बताया था, तब उनकी निंदा हुई थी और उनके शो में एक गेस्ट, लिंडसी डंकन पर बिना वैज्ञानिक आधार के गलत जानकारी देकर दर्शकों को गुमराह करने के लिए 90 लाख डॉलर का दंड भी लगाया था।

निष्कर्ष यह है कि वजन कम करना मुश्किल जरूर होता है लेकिन असंभव नहीं है। यदि आपको वजन कम करना है तो अपने खान-पान को स्वस्थ करें और नियमित रूप से एक्सर्साइज़ करें। और यदि आपके डॉक्टर मना नहीं करें तो ग्रीन कॉफी जैसे वेट-लॉस सप्लिमेंट लिए जा सकते हैं। लेकिन याद रखें कि वजन कम करने के लिए केवल ग्रीन कॉफी एक्सट्रैक्ट लेने से आपको कोई परिणाम नहीं मिलेंगे। इसे शुरू करने से पहले अच्छे से विचार कर लें। अपना ख़्याल रखें!

Green Coffee For Weight Loss

आदेश अब Green Coffee

Green Coffee For Weight Loss
3 (60%) 8 votes

संबंधित पोस्ट

Miracle Glow ने कैसे मेरी रंगत बदल डाली... मेरे लिए स्किन-ब्लीचिंग हमेशा से एक बड़ी समस्या रही है। मुझे बचपन से ही बहुत चकत्ते थे और मुझे ये बिल्कुल पसंद नहीं थे। किशोरावस्था में मुझे मुँहासे हो...
कैसे BustFull छाती का आकार बढ़ाने वाली क्रीम ने मेर... मुझे नहीं लगता कि पूरी दुनिया में एक भी ऐसी लड़का है जिसने कभी भी आकर्षक दिखने का सपना नहीं देखा. इसमें मैं भी कोई अपवाद नहीं हूँ. युवा होने के बा...
ग्रीन कॉफी फली: क्या इस वजन घटाने के सप्लिमेंट के ... हो सकता है आप कॉफी पीने को अपनी “बुरी आदत” मानते हों लेकिन आप माने या न मानें, कई शोध दर्शा चुके हैं कि कॉफी पीने वाले लोगों को कई गंभीर बीमारियों...
XTRA MAN ने सम्भोग समस्याओं से निजात पाने में मेरी... उपभोक्ताओं की प्रतिक्रियाएँ सही निकलीं: आपको अपने लिंग का आकार बढ़ाने के लिए किसी सर्जरी की आवश्यकता नहीं है. लोगों को अपनी असुरक्षा की भावना स...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *